सलमान खुर्शीद ने अपनी विवादित किताब से आलोचनाओं को आमंत्रित किया!

सलमान खुर्शीद की विवादित किताब पर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा।

0
253
सलमान खुर्शीद ने अपनी विवादित किताब से आलोचनाओं को आमंत्रित किया!
सलमान खुर्शीद ने अपनी विवादित किताब से आलोचनाओं को आमंत्रित किया!

विवादित किताब के कारण सलमान खुर्शीद पर आलोचनाओं की बौछार!

वरिष्ठ कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद की विवादित किताब को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है। तो वहीं दूसरी ओर कांग्रेस के एक और नेता राशिद अल्वी भी अब भाजपा के निशाने पर आ गए हैं। दरअसल, अल्वी के एक वीडियो को ट्वीट करते हुए भाजपा आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय ने राशिद अल्वी द्वारा जय श्री राम कहने वालों को ‘निशाचर’ कहे जाने वाले बयान को उद्धृत किया।

आपको बता दें कि सलमान खुर्शीद की किताब सनराइज ओवर अयोध्या में उन्होंने हिंदुत्व की तुलना इस्लामिक स्टेट और बोको हरम जैसे जिहादी आतंकी संगठनों से की है। इस पर भाजपा की तरफ से कड़ी प्रतिक्रिया के साथ ही कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने भी हिंदुत्व और जिहाद की तुलना को गलत बताया और खुर्शीद की किताब का विरोध किया।

कांग्रेस नेता और प्रदेश युवक कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ललन कुमार ने कांग्रेस हाईकमान से खुर्शीद पर कार्यवाही करने की मांग की तो वहीं जेडीयू प्रवक्ता अजय आलोक ने कहा कि “सलमान खुर्शीद ने 100 करोड़ हिंदुओं की तुलना आईएसआईएस और बोको हरम से कैसे कर दी!

गुरुवार को भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव भाटिया ने पी चिदंबरम, सलमान खुर्शीद, मणिशंकर अय्यर और शशि थरूर के बयानों का जिक्र करते हुए कांग्रेस पर हमला तेज किया था और अब राशिद अल्वी के इस बयान ने भाजपा का पलड़ा और भारी कर दिया है।

तो वहीं दूसरी ओर मध्यप्रदेश में गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने  खुर्शीद की किताब पर प्रतिबंध लगाने की बात कही। बिहार की राजनीति भी इस विवाद से अछूती नहीं रही, बिहार कांग्रेस के नेता ऋषि मिश्रा ने सलमान खुर्शीद का विरोध करते हुए स्पष्ट कहा कि खुर्शीद ने अपनी किताब में जो भी लिखा है, बिल्कुल गलत है, उन्हें माफी मांगनी चाहिए।

बिहार भाजपा और जेडीयू ने भी सलमान खुर्शीद की किताब की आलोचना करते हुए उन पर निशाना साधा। भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष राजीव रंजन ने कठोर लहजे में कहा –

कांग्रेस के नेता खुर्शीद आईएसआईएस के कवर एजेंट की तरह काम कर रहे हैं। जब कांग्रेस में सोनिया और राहुल गांधी की मर्जी के बिना पत्ता भी नहीं हिलता, ऐसे में उन दोनों की चुप्पी खुर्शीद को मौन समर्थन को दर्शाती है। ऐसे लोगों को विकास अच्छा नहीं लगता और इस किताब में लिखीं बातें सिर्फ उनकी राष्ट्र विरोधी सोच को दर्शाती हैं।

कांग्रेस नेता और प्रदेश युवक कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ललन कुमार ने कांग्रेस हाईकमान से खुर्शीद पर कार्यवाही करने की मांग की तो वहीं जेडीयू प्रवक्ता अजय आलोक ने कहा कि “सलमान खुर्शीद ने 100 करोड़ हिंदुओं की तुलना आईएसआईएस और बोको हरम से कैसे कर दी! अगर वैसी कट्टरता हिंदुओं में आ गयी तो सलमान खुर्शीद को भागना पड़ेगा। कांग्रेस को इसके लिए माफी मांगनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.