एसएसआर मृत्यु मामला: सुब्रमण्यम स्वामी ने स्वास्थ्य मंत्रालय के मेडिकल बोर्ड से पोस्टमॉर्टम में हुई सात कमियों की जांच करने की मांग की

क्या स्वामी के दखल के बाद एसएसआर की मौत के रहस्य का मामला अब सही राह पर है?

0
728
क्या स्वामी के दखल के बाद एसएसआर की मौत के रहस्य का मामला अब सही राह पर है?
क्या स्वामी के दखल के बाद एसएसआर की मौत के रहस्य का मामला अब सही राह पर है?

सीबीआई ने मामले को बंद करने की फर्जी खबरों को खारिज किया

भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने गुरुवार को कहा कि डॉ. कूपर अस्पताल द्वारा की गयी अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सात कमियां थीं, और यह आल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज (एम्स) द्वारा दर्ज किया गया था। स्वामी ने कहा कि स्वास्थ्य सचिव के निर्देशों के अनुसार, एम्स फोरेंसिक प्रमुख डॉ सुधीर गुप्ता ने उनसे संसदीय स्थायी समिति के समक्ष उठाए गए पांच सवालों पर स्पष्टीकरण देने के लिए मुलाकात की। भाजपा नेता ने मांग की थी कि केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के अंतिम निष्कर्ष तक पहुँचने से पहले, स्वास्थ्य मंत्रालय को सुशांत सिंह राजपूत की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का विश्लेषण करने के लिए एक मेडिकल बोर्ड का गठन करना चाहिए। इस बीच, सीबीआई ने गुरुवार सुबह प्रकाशित कुछ मीडिया संगठनों की फर्जी रिपोर्टों को खारिज कर दिया, खबरों में कहा गया था कि एजेंसी जल्द ही एक क्लोजर रिपोर्ट (मामले को बंद करना) दाखिल करने जा रही है।

शुरुआत में, मुंबई के डॉ. कूपर अस्पताल द्वारा किए गए पोस्टमॉर्टम में बुनियादी उल्लंघनों पर रिपोर्टें थीं। एम्स के फॉरेंसिक डायरेक्टर डॉ सुधीर गुप्ता, जिन्होंने कई टीवी मीडिया घरानों को बताया कि यह हत्या का एक स्पष्ट मामला था, ने बाद में अपना रुख बदल दिया और इस घटना को आत्महत्या करार दिया। हाल ही में सुब्रमण्यम स्वामी ने संसदीय समिति से एम्स की रिपोर्ट पर पांच सवाल पूछे थे[1]

मामले में प्राथमिकी दर्ज करने के बाद से इस तरह के तीसरे बयान में, केंद्रीय जांच एजेंसी ने मामले में अपनी छानबीन से संबंधित खबरों को “काल्पनिक” करार दिया।

सुब्रमण्यम स्वामी ने गुरुवार को डॉ सुधीर गुप्ता के साथ अपनी मुलाकात और बातचीत के परिणाम के बारे में दो ट्वीट किए। उन्होंने मांग की कि स्वास्थ्य मंत्रालय के मेडिकल बोर्ड को पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट की जांच करनी चाहिए और एम्स को डॉ. कूपर अस्पताल द्वारा किये पोस्टमॉर्टम में सात कमियां मिलीं।

इस खबर को अंग्रेजी में यहाँ पढ़े।

सुब्रमण्यम स्वामी के दो ट्वीट इस प्रकार हैं:

इस बीच, शाम को, सीबीआई ने मीडिया रिपोर्टों के दावे कि एजेंसी ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में अपनी जांच समाप्त कर दी है और जल्द ही एक क्लोजर रिपोर्ट दाखिल कर सकती है, को “काल्पनिक” और “गलत” करार दिया। मामले में प्राथमिकी दर्ज करने के बाद से इस तरह के तीसरे बयान में, केंद्रीय जांच एजेंसी ने मामले में अपनी छानबीन से संबंधित खबरों को “काल्पनिक” करार दिया।

सीबीआई प्रवक्ता आरके गौर ने एक बयान में कहा – “सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच सीबीआई जारी रखे हुए है। मीडिया में कुछ अटकलें हैं कि सीबीआई एक निष्कर्ष पर पहुंच गई है। फिर से दोहराता हूँ कि ये रिपोर्ट सिर्फ काल्पनिक और गलत ही हैं।”

संदर्भ:

[1] सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में एम्स की रिपोर्ट पर संसदीय पैनल के सामने सुब्रमण्यम स्वामी ने उठाए पांच सवालOct 10, 2020, hindi.pgurus.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.