भारत में 1 मई से 18 साल के ऊपर के सभी लोगों का कोविड टीकाकरण। राज्य सरकारों और निजी अस्पतालों को टीके खरीदने की अनुमति।

अगले महीने से शुरू होने वाले टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण के तहत, 18 साल के ऊपर के सभी लोगों को टीका लगाया जाएगा!

1
599
अगले महीने से शुरू होने वाले टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण के तहत, 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीका लगाया जाएगा!
अगले महीने से शुरू होने वाले टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण के तहत, 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को टीका लगाया जाएगा!

भारत ने 1 मई से सभी 18 साल से ऊपर के टीकाकरण का निर्णय लिया!

कोविड महामारी के बढ़ते प्रकोप के कारण भारत ने सोमवार को 1 मई से 18 साल से ऊपर के सभी लोगों का टीकाकरण करने का निर्णय लिया है। टीकाकरण अभियान की गति बढ़ाने के लिए, भारत सरकार ने राज्य सरकारों, निजी अस्पतालों और औद्योगिक प्रतिष्ठानों को भी निर्माताओं से सीधे टीके खरीदने की अनुमति दे दी है। अगले महीने से शुरू होने वाले टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण के तहत, वैक्सीन निर्माता अपने सेंट्रल ड्रग्स लेबोरेटरी (सीडीएल) के मासिक उत्पादन की 50 प्रतिशत आपूर्ति केंद्र सरकार को करेंगे और शेष 50 प्रतिशत को राज्य सरकारों और खुले बाजारों को आपूर्ति करने के लिए स्वतंत्र होंगे।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि निर्माताओं को 50 प्रतिशत आपूर्ति की कीमतों की अग्रिम घोषणा करनी होगी, जो 1 मई 2021 से पहले राज्यों और खुले बाजार में उपलब्ध होगी। इस मूल्य के आधार पर, राज्य सरकारें, निजी अस्पताल, औद्योगिक प्रतिष्ठान आदि निर्माताओं से वैक्सीन की खुराक की खरीद कर सकेंगे

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई बैठक में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को 1 मई से टीकाकरण की अनुमति देने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है।

निजी अस्पतालों को केंद्र सरकार के माध्यम से आने वाले टीकों के अलावा अन्य संस्थाओं के लिए 50 प्रतिशत आपूर्ति में से कोविड-19 वैक्सीन की अपनी अलग आपूर्ति की खरीद करनी होगी। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि निजी टीकाकरण प्रदाताओं को पारदर्शी रूप से अपने स्व-निर्धारित टीकाकरण मूल्य की घोषणा करने की आवश्यकता होगी और इस प्रक्रिया हेतु पात्रता सभी वयस्कों यानी 18 वर्ष से ऊपर के लोगों के लिए खोली जाएगी।

इस खबर को अंग्रेजी में यहाँ पढ़े।

भारत सरकार के टीकाकरण केंद्रों पर पहले की ही तरह टीकाकरण जारी रहेगा, जो पात्र व्यक्तियों लिए नि: शुल्क है – स्वास्थ्य सेवा कर्मचारी और अग्रिम पंक्ति कामगारों और 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों के लिए निःशुल्क है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई बैठक में 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को 1 मई से टीकाकरण की अनुमति देने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है।

एक बयान में स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा – “प्रधान मंत्री ने कहा कि सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए एक वर्ष से अधिक समय से कड़ी मेहनत कर रही है कि कम से कम समय में अधिक से अधिक संख्या में भारतीय टीका प्राप्त कर सकें। उन्होंने कहा कि भारत विश्व रिकॉर्ड गति से लोगों का टीकाकरण कर रहा है और हम इसे इससे भी अधिक गति से जारी रखेंगे।”

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.