आईटी कंपनियों के लिए बारिश बनी कहर, ₹225 करोड़ का नुकसान

बाढ़ की क्षतिपूर्ति के लिए कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने केंद्र से आर्थिक सहायता की मांग की थी।

0
45
आईटी कंपनियों के लिए बारिश बनी कहर, ₹225 करोड़ का नुकसान
आईटी कंपनियों के लिए बारिश बनी कहर, ₹225 करोड़ का नुकसान

आईटी कंपनियों के नुकसान पर जल्द चर्चा करेगी बोम्मई सरकार

कर्नाटक में हुई भारी बारिश के बाद बेंगलुरु में आईटी कंपनियों को भारी नुकसान उठाना पड़ा है। बेंगलुरु की आईटी कंपनियों को करीब 225 करोड़ का नुकसान हुआ है। इस पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने आईटी कंपनियों को भरोसा दिया है कि उनके नुकसान को लेकर जल्द ही चर्चा की जाएगी। सीएम बसवराज बोम्मई ने कहा कि भारी बारिश के कारण आईटी कंपनियों को हुए नुकसान और उसके मुआवजे को लेकर वह जल्द चर्चा करेंगे। बसवराज बोम्मई ने कहा, “हम आईटी कंपनियों को बुलाएंगे और भारी वर्षा के बाद जलजमाव के कारण जो क्षति हुई है, उसके बारे में उनकी समस्याओं पर बात करेंगे। हम बारिश के कारण हुए संबंधित नुकसान और मुआवजे पर भी चर्चा करेंगे।”

बोम्मई ने यह बयान तब दिया है जब आईटी कंपनियों ने उनसे रिंग रोड के मुद्दे को सुलझाने का अनुरोध किया है। एक दिन पहले बेंगलुरु में भारी बारिश हुई जिसके कारण जगह-जगह जलजमाव हो गया है। जलजमाव के कारण बेंगलुरु और कोरामंगला में कई जगह ट्रैफिक जाम हो गया। इससे लोगों का जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया।

एक स्थानीय व्यक्ति का कहना था कि बारिश इतनी ज्यादा हुई कि सड़क पर गाड़ी चलाना मुश्किल हो गया था। एक व्यक्ति ने बताया कि जब वह सुबह में उठा तो जगह-जगह पानी जमा हो गया था। सड़कों पर पानी डिवाइडर तक आ गया था। कई व्यक्तियों के घरों के बेसमेंट में पानी घुस गया जिसे मोटर की मदद से निकालना पड़ा। एक अन्य व्यक्ति का कहना था कि यह अब हर साल हो रहा है। हर साल बारिश के बाद जलजमाव की समस्या होती है और हमें पंप की मदद से पानी को निकालना पड़ता है। इसका स्थायी समाधान नहीं निकाला जा रहा है। जब सड़कें बनती हैं तो उसी समय ड्रेनेज सिस्टम को नहीं बनाया जाता जिससे परेशानी और बढ़ जाती है। पानी में कई महिलाएं सड़कों पर फिसल जाती है।

इस बार कर्नाटक में भारी बारिश हो रही है। जुलाई के शुरू में कर्नाटक में भारी बारिश के कारण कई जगहों पर बाढ़ जैसी स्थितियों का सामना करना पड़ा। आपदा प्रबंधन की टीम को राहत और बचाव कार्य के लिए काम में लगाया गया था। बाढ़ की क्षतिपूर्ति के लिए कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने केंद्र से आर्थिक सहायता की मांग की थी।

[आईएएनएस इनपुट के साथ]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.