भारत में साहित्यिक चोरी पनपी है

जैसा कि भारत बड़ी लीग में शामिल होना चाहता है, उसे मालिकों के बौद्धिक संपदा अधिकारों का सम्मान करना शुरू करना होगा

0
882
भारत में साहित्यिक चोरी पनपी है
भारत में साहित्यिक चोरी पनपी है

टीम पीगुरूज को श्रेय का दावा करने पर गर्व है कि इसका कार्टून द एक्सीडेंटल पीएम मूवी में इस्तेमाल किया गया था और इसके परिणामस्वरूप 2019 के चुनावों में मोदी को शानदार जीत मिली। यद्यपि हम चुनाव से पहले इस तथ्य से अवगत थे, हमने इसे गुप्त रखने का फैसला किया कि कोई (तीन अक्षरों वाली पार्टी ध्यान आकर्षित करने हेतु) गुप्त शिकायत करे। साथ ही हम नहीं चाहते थे कि हमारे पाठक (और लाखों) इससे प्रभावित हों। यहाँ फिल्म का दृश्य है:

Figure 1. PGurus cartoon used in The Accidental PM
Figure 1. PGurus cartoon used in The Accidental PM

और यहाँ मूल कार्टून है:

Figure 2. Manmohan Singh - Then reticent, now virulent?
Figure 2. Manmohan Singh – Then reticent, now virulent?

देखें कि फिल्म यूनिट ने सावधानीपूर्वक हमारे सभी कॉपीराइट और वॉटरमार्क और लोगो को कैसे हटाया? वे हमसे पूछ सकते थे और हम खुशी से सहमत हो जाते (श्रेय में एक पंक्ति के बदले में)। उम्मीद है, भविष्य में, हम इस तरह का खुलासा करेंगे क्योंकि इस समय में, साहित्यिक चोरी पकड़ी जाएगी और अपराधी को जग जाहिर किया जाएगा और शर्मिंदा किया जाएगा।

यह आदत व्यापक क्यों है?

यह कोई नई बात नहीं है। दशकों से, फिल्में दूसरे देशों के उपन्यास या फिल्मों से प्रेरित रही हैं। जो दुखद है वह तथ्यों / बौद्धिक संपदा अधिकारों और स्वामित्व के सम्मान की आनंदित अनदेखी है। पश्चिम में, न्यायालयों से त्वरित न्याय उपलब्ध है, लेकिन भारत में दुर्भाग्यपूर्ण, हमेशा के लिए इंतजार करना पड़ता है। और न्यायाधीश कभी भी अपराध के लिए क्षतिपूर्ति नहीं देते हैं। और उच्च न्यायालय में निर्णय की अपील की जाएगी। और अगर आप भाग्यशाली हैं, तो आपके पोते को पैसा मिल सकता है। इस खबर को अंग्रेजी में यहाँ पढ़े। अगर कोई स्वत्व शुल्क (रॉयल्टी) भी दिया नहीं गया तो कम से कम “श्रीमती डाउटफायर से प्रेरित” जैसे शब्दाडंबर का उपयोग किया जा सकता है। आखिर कमल हासन की चाची 420 क्या थी अनुकूलन शानदार था, और इसलिए भी क्योंकि तमिल संस्करण हिंदी वाले से थोड़ा अलग है, क्षेत्रीय भावनाओं के अनुरूप है। यहाँ भारत के लिए एक विनम्र निवेदन है – कृपया दूसरों के काम को अभिस्वीकार करें। आपका योगदान और भी अधिक चमक जाएगा क्योंकि आप पहले से ही सिद्ध उत्पाद को बढ़ा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.