महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को बदनाम करने और भयादोहन (ब्लैकमेल) करने की कोशिश के लिए मुंबई पुलिस ने न्यू उत्तराखंड वेब पोर्टल के खिलाफ मामला दर्ज किया

राज्यपाल कोश्यारी के खिलाफ उत्तराखंड स्थित वेबसाइट द्वारा मानहानि संबंधी समाचार पर मुंबई पुलिस ने शिकायत दर्ज की है

0
738
राज्यपाल कोश्यारी के खिलाफ उत्तराखंड स्थित वेबसाइट द्वारा मानहानि संबंधी समाचार पर मुंबई पुलिस ने शिकायत दर्ज की है
राज्यपाल कोश्यारी के खिलाफ उत्तराखंड स्थित वेबसाइट द्वारा मानहानि संबंधी समाचार पर मुंबई पुलिस ने शिकायत दर्ज की है

मुंबई पुलिस ने गुरुवार को एक वेब पोर्टल – न्यूज उत्तराखंड – के खिलाफ महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के खिलाफ एक दुर्भावनापूर्ण रिपोर्ट प्रकाशित करने के लिए मामला दर्ज किया है। वेबसाइट द्वारा प्रकाशित अत्यधिक अपमानजनक लेख में कहा गया है कि राज्यपाल ने कोविड-19 लॉकडाउन अवधि के दौरान एक जवान महिला मॉडल जैनी उर्फ जयंती के लिए सेना के हेलीकॉप्टर को दिल्ली पहुँचाया और फिर उसके शहर देहरादून तक की यात्रा के लिए एक कार की व्यवस्था की।

न्यू उत्तराखंड द्वारा प्रकाशित लेख में महिला मॉडल की फोटो भी प्रकाशित की गई थी और इसे सुधीर सूर्यवंशी जैसे कांग्रेस और एनसीपी समर्थक वरिष्ठ पत्रकार द्वारा ट्वीट किया था।

सूर्यवंशी का ट्वीट
सूर्यवंशी का ट्वीट

माननीय राज्यपाल के बारे में एक मानहानी लेख पर समाचार पोर्टल के खिलाफ पुलिस शिकायत दर्ज की गई।

इस खबर को अंग्रेजी में यहाँ पढ़े।

“इंटरनेट पर राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के बारे में बदनाम करने वाली खबर के प्रकाशन और सोशल मीडिया पर इसके प्रचलन के संबंध में गुरुवार (14 मई) को मुंबई के बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स में साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन में एक समाचार पोर्टल के खिलाफ एक पुलिस शिकायत दर्ज की गई है, जो दिल्ली होते हुए महाराष्ट्र से देहरादून तक एक मॉडल की यात्रा की कथित सुविधा से संबंधित है।

महाराष्ट्र के राजभवन ने गुरुवार शाम एक बयान में कहा, “खबर की सामग्री झूठी, मनगढ़ंत है और माननीय राज्यपाल की बेदाग छवि को खराब करने के इरादे से एक नापाक धारणा पर आधारित है।”

राजभवन के अधिकारियों के अनुसार, इस तरह की कोई घटना नहीं हुई और राज्यपाल को बदनाम करने के लिए कुछ शातिरों द्वारा कहानी रची गई। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि यह फर्जी खबर राज्यपाल को ब्लैकमेल करने के अलावा कुछ नहीं थी और वेबसाइट के मालिकों और लेखकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.