बिनीश कोडियारी की जाँच के दौरान, ईडी अधिकारियों पर केरल पुलिस का हमला

ईडी के अधिकारियों को बिनीश कोडियरी के वित्तीय व्यवहार की जांच के सिलसिले में छापेमारी करते हुए केरल पुलिस द्वारा परिसर छोड़ने से रोका गया!

0
486
ईडी के अधिकारियों को बिनीश कोडियरी के वित्तीय व्यवहार की जांच के सिलसिले में छापेमारी करते हुए केरल पुलिस द्वारा परिसर छोड़ने से रोका गया!
ईडी के अधिकारियों को बिनीश कोडियरी के वित्तीय व्यवहार की जांच के सिलसिले में छापेमारी करते हुए केरल पुलिस द्वारा परिसर छोड़ने से रोका गया!

ईडी को केरल पुलिस द्वारा परिसर को छोड़ने से रोका गया!

कोच्चि: अगर हम पिछले 72 घंटों के घटनाक्रम को देखें तो केरल, एक स्वतंत्र गणतंत्र जिसके भारतीय संघ से जुड़ाव के कोई संकेत नहीं है, की तरह हो गया है।

आर्थिक कानूनों को लागू करने और आर्थिक अपराध से लड़ने के लिए उत्तरदायी भारत की आर्थिक खुफिया एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की एक टीम गुरुवार को तिरुवनंतपुरम में केरल पुलिस के अधिकारियों के निशाने पर आई।

ईडी के अधिकारी, जो 26-घंटे की छापेमारी के बाद, माकपा पार्टी सचिव, कोडियरी बालाकृष्णन के महलनुमा आवास को छोड़ रहे थे, उन्हें निचले पद वाले केरल पुलिस निरीक्षक द्वारा परिसर से बाहर जाने से रोका गया, वह उन्हें ठेठ पुलिस की भाषा में अपशब्द भी कह रहा था। छापेमारी बालाकृष्णन के गुस्सैल बेटे बिनीश कोडियरी के वित्तीय व्यवहार की जांच के सिलसिले में की गई थी, जो गलत लोगों के साथ सभी तरह के प्रतिबंधित कारोबार में शामिल है[1]

ईडी की टीम ने तिरुवनंतपुरम की शहर सीमा में, कोडियारी के निवास और व्यावसायिक परिसरों (जिनमें कोडियारी की अच्छी खासी हिस्सेदारी है) में छापे की शुरुआत की।

बिनीश कोडियरी को ड्रग तस्करी, मादक पदार्थों के व्यापार के वित्तपोषण और काले धन को वैध बनाने (मनी लॉन्ड्रिंग) में उनकी भूमिका के लिए ईडी की बैंगलोर इकाई ने शुक्रवार को गिरफ्तार किया था। अनूप मोहम्मद, मादक पदार्थों के वैश्विक तंत्र से जुड़े एक ड्रग व्यापारी को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) द्वारा गिरफ्तार किया गया था, उसने पूछताछ के दौरान बिनीश के साथ अपने व्यापारिक व्यवहार के बारे में बताया[2]

यह बिनीश था जिसने बेनामी ऑपरेटरों के माध्यम से मोहम्मद के ड्रग व्यापार को वित्तपोषित किया। मोहम्मद को कुछ फिल्म अभिनेत्रियों के साथ बैंगलोर में एक रेव पार्टी (नशेड़ियों की पार्टी) के दौरान गिरफ्तार किया गया था। गिरफ्तार किए गए सभी लोगों ने बिनीश के साथ अपने व्यवहार के बारे में कर्नाटक पुलिस, ईडी और एनसीबी के समक्ष कुबूल किया, बिनीश खुद अपने दोस्तों के अनुसार एक नशेड़ी है[3]

इस खबर को अंग्रेजी में यहाँ पढ़े।

वित्तीय सौदों में ईडी की जाँच तब सामने आई जब उन्होंने पाया कि मार्क्सवादी नेता का बेटा उनके प्रश्न का कोई भी सार्थक जवाब देने में विफल रहा कि कैसे बिनीश के आईडीबीआई और एचडीएफसी बैंक खातों में पांच करोड़ रुपये का अधिशेष आया।

ईडी की टीम ने तिरुवनंतपुरम की शहर सीमा में, कोडियारी के निवास और व्यावसायिक परिसरों (जिनमें कोडियारी की अच्छी खासी हिस्सेदारी है) में छापे की शुरुआत की। ईडी के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, उन्हें बिनीश के आवास से अनूप मोहम्मद के नाम का क्रेडिट कार्ड मिला है। लेकिन बिनीश के परिजनों ने आरोप लगाया कि ईडी के अधिकारियों ने खुद मोहम्मद के क्रेडिट कार्ड को निवास के अंदर रखा था और उन्होंने अधिकारियों को वह कार्ड जब्त करते नहीं देखा[4]

ईडी के अधिकारियों ने शांति बनाये रखी, पुलिस को जल्दी ही पीछे हटना पड़ा क्योंकि ईडी अधिकारी सीआरपीएफ और कर्नाटक पुलिस के सशस्त्र कमांडो के संरक्षण में थे।

जबकि ईडी ने परिवार के सदस्यों को दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करने के लिए कहा, बिनीश की पत्नी और सास ने घर के सामने एक नाटक करना शुरू कर दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि ईडी के अधिकारी उन्हें हस्ताक्षर न करने की स्थिति में गम्भीर परिणाम भुगतने की धमकी दे रहे हैं।

एक हाई-प्रोफाइल कारोबारी दबंग प्रदीप, जो बिनीश के ससुर भी हैं, मौके पर पहुंच गए और ईडी प्रमुख को शिकायत भेजकर अधिकारियों पर उनकी पत्नी और बेटी के साथ मारपीट करने का आरोप लगाया।

ईडी के अधिकारियों ने शांति बनाये रखी, पुलिस को जल्दी ही पीछे हटना पड़ा क्योंकि ईडी अधिकारी सीआरपीएफ और कर्नाटक पुलिस के सशस्त्र कमांडो के संरक्षण में थे। बाल कल्याण आयोग के अधिकारी भी यह सुनकर घटनास्थल पर पहुंच गए कि उनकी पार्टी के नेता के पोते पर हमला हो रहा है।

बुधवार को केरल सरकार ने स्वयं ही राज्य में किसी भी अपराध की जांच करने के लिए सीबीआई को प्रतिबंधित कर दिया था। मुख्यमंत्री ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “अगर उच्च न्यायालय या केरल सरकार ऐसा कहती है तो वे जांच शुरू कर सकते हैं। अन्यथा, राज्य में सीबीआई का स्वागत नहीं है[5]।”

संदर्भ:

[1] Kerala Police seeks explanation from ED over raid at Bineesh’s residenceNov 5, 2020, Mathrubhumi

[2] Drug case: ED raids Bineesh Kodiyeri’s house in ThiruvananthapuramNov 04, 2020, The Hindu

[3] Explained: What is the Bengaluru drug case? Who are the big names involved?Nov 5, 2020, Indiatimes

[4] Anoop Muhammed’s Credit Card Recovered From Bineesh’s House, Say EDNov 5, 2020, Mathrubhumi

[5] Miffed by ED, NIA’s probes, Kerala bans auto consent to CBINov 5, 2020, The Pioneer

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.