ट्राई का टेलीकॉम कंपनियों को निर्देश – ​प्रीपेड मोबाइल कस्टमर्स को 30 दिन की वैलिडिटी वाला प्लान देना ही होगा।

ट्राई ने सभी टेलीकॉम कंपनियों को मोबाइल रिचार्ज की वैलिडिटी 28 दिन की बजाय 30 दिन देने का निर्देश दिया है।

0
145
ट्राई का टेलीकॉम कंपनियों को निर्देश
ट्राई का टेलीकॉम कंपनियों को निर्देश

ट्राई द्वारा टेलीकॉम कंपनियों को दिए गये सख्त निर्देशों से ग्राहकों को होगा लाभ

टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने प्रीपेड मोबाइल ग्राहकों के हक में एक बड़ा फैसला किया है। ट्राई ने सोमवार को सभी टेलीकॉम कंपनियों को मोबाइल रिचार्ज की वैलिडिटी 28 दिन की बजाय 30 दिन देने का निर्देश दिया है।

इसके साथ ही टेलीकॉम कंपनी को अपने प्लान में अब एक स्पेशल वाउचर, एक कॉम्बो वाउचर पूरे महीने की वैलिडिटी के साथ लाना ही होगा। ट्राई ने सात महीने पहले भी यह निर्देश जारी किए थे, लेकिन टेलीकॉम कंपनियों ने इसका पालन नहीं किया था। इसलिए ट्राई ने दोबारा सभी टेलीकॉम कंपनियों को यह निर्देश दिए हैं।

बता दें कि टेलीकॉम कंपनियों के मौजूदा प्लान में 28 दिन की वैलिडिटी होती है, जिसकी वजह से कस्टमर्स को एक साल में 13 बार मंथली रिचार्ज कराना होता है। ट्राई के इस फैसले के बाद माना जा रहा है कि ग्राहकों की ओर से एक साल में कराए गए रिचार्ज की संख्या में कमी आएगी। ऐसा होने से ग्राहकों के एक महीने के एक्स्ट्रा रीचार्ज के पैसे बचेंगे।

ट्राई ने टेलीकॉम कंपनियों के लिए एक नोटिफिकेशन जारी किया है। इस नोटिफिकेशन के मुताबिक, सभी टेलिकॉम सर्विस प्रोवाइडर को 30 दिनों की वैलिडिटी वाले कम से कम एक प्लान वाउचर, एक स्पेशल टैरिफ वाउचर और एक कॉम्बो वाउचर लाना ही होगा। इसके अलावा कंपनियों को नोटिफिकेशन की तारीख से 60 दिनों के अंदर नियमों के आदेश का पालन करने को कहा गया है।

ट्राई ने अप्रैल के महीने में इस संबंध में कंपनियों को निर्देश जारी किया था कि उन्हें प्लान वाउचर और प्लान वाउचर रिन्यूअल कैटिगरी में कम से कम एक ऐसा टैरिफ लाना होगा, जिसकी वैलिडिटी 30 दिनों की होगी।

टेलीकॉम कंपनियों के मौजूदा प्लान को लेकर ट्राई को लगातार कस्टमर्स की शिकायतें मिल रही थीं। कस्टमर्स का आरोप था कि मौजूदा टेलीकॉम कंपनियों की टैरिफ की कीमत लगातार बढ़ रही है, लेकिन वैलिडिटी घट रही है। ऐसे में हर साल उन्हें एक्स्ट्रा रीचार्ज करवाना पड़ता है। अगर वैलिडिटी 2 दिन बढ़ा दी जाएगी तो उन्हें राहत मिलेगी।

मोबाइल टैरिफ में दो कैटिगरी हैं। पहली कैटिगरी वैलिडिटी पीरियड बेस्ड है। दूसरी कैटिगरी रिन्यूअल ऑन सेम डेट पर बेस्ड है। इसे एक महीने वाला प्लान भी कहते हैं। ट्राई की तरफ से अलग-अलग कैटिगरी को लेकर टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर्स की 30 दिनों की वैलिडिटी वाले प्लान्स की कंप्लीट जानकारी शेयर की गई है।

एयरटेल की 30 दिनों की वैलिडिटी वाला प्लान 128 रुपए का है, जबकि उसी तारीख को अगले महीने रिन्यूअल वाले प्लान का टैरिफ 131 रुपए का है। रिलायंस जियो की 30 दिनों की वैलिडिटी वाला प्लान 296 रुपए का है, जबकि अगले महीने उसी तारीख को रिन्यूअल वाले प्लान का टैरिफ 259 रुपए है।

वहीं वोडाफोन-आइडिया की 30 दिनों की वैलिडिटी वाला प्लान 137 रुपए का है, जबकि अगले महीने उसी तारीख को रिन्यू होने वाला प्लान 141 रुपए का है। इसके अलावा बीएसएनएल का 30 दिनों का प्लान 199 रुपए का है, जबकि एक महीने की वैलिडिटी वाला प्लान 229 रुपए का है। एमटीएनएल का 30 दिनों वाला प्लान 151 रुपए का है, जबकि एक महीने यानी अगले महीने सेम डेट रिन्यूअल वाला प्लान 97 रुपए का है।

ट्राई ने अपने बयान में कहा है कि पिछले साल नवंबर 2021 के अंत तक मोबाइल कस्टमर्स की संख्या बढ़कर 119 करोड़ हो गई है। इस दौरान रिलायंस जियो और एयरटेल के कस्टमर्स की संख्या में काफी बढ़ोतरी देखी गई है। एक रिपोर्ट के अनुसार, पिछले साल अक्टूबर में रिलायंस जियो ने 17.6 लाख कस्टमर्स जोड़े, जिसके बाद उसके कुल कस्टमर्स की संख्या 42.65 करोड़ के करीब रही।

वहीं, एयरटेल के कस्टमर्स में 4.89 लाख की कमी देखी गई, जिसके बाद इसके कुल कस्टमर्स की संख्या 35.39 तक जा पहुंची। जबकि, वोडाफोन-आईडिया के 9.64 लाख कस्टमर्स की कमी के बाद इसके कुल ग्राहकों की संख्या 26.90 करोड़ हो गई है।

[आईएएनएस इनपुट के साथ]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.