आरएसएस और केंद्र सरकार के बीच संबंधों पर मोहन भागवत का स्पष्टीकरण!

उन्होंने समाज सुधारक डा.बी आर अंबेडकर का हवाला देते हुए कहा, ‘हम कभी किसी की ताकत से नहीं, बल्कि अपनी कमजोरियों से पराजित होते हैं

0
533
आरएसएस और केंद्र सरकार के बीच संबंधों पर मोहन भागवत का स्पष्टीकरण!
आरएसएस और केंद्र सरकार के बीच संबंधों पर मोहन भागवत का स्पष्टीकरण!

क्या केंद्र सरकार का रिमोट कंट्रोल आरएसएस के पास है?

क्या सरकार को चलाने का असल रिमोट कंट्रोल राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के पास है। इस सवाल पर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने स्थिति स्पष्ट की है।

मोहन भागवत ने शनिवार को कहा कि मीडिया में आरएसएस को सरकार के रिमोट कंट्रोल के रूप में पेश किया जाता है, जो बिलकुल सच नहीं है। धर्मशाला में पूर्व सैनिकों को संबोधित करते हुए कहा, ‘मीडिया हमें सरकार के रिमोट कंट्रोल के रूप में पेश करता है लेकिन यह असत्य है। हालांकि हमारे कुछ कार्यकर्ता सरकार का हिस्सा जरूर हैं। लोग हमसे पूछते हैं कि हमें सरकार से क्या मिलता है। उनके लिए मेरा जवाब यह है कि हमारे पास जो कुछ भी है उसे हमें खोना भी पड़ सकता है।’

इलाज की प्राचीन भारतीय पद्धतियों पर प्रकाश डालते हुए, उन्होंने कहा, ‘हमें हमारे पारंपरिक भारतीय उपचार जैसे कि काढ़ा, क्वाथ जैसी चीजों का इस्तेमाल बढ़ाना होगा। कोरोना काल में इनकी उपयोगिता पूरी दुनिया ने देखी है। अब दुनिया भारतीय मॉडल का अनुकरण करना चाहती है। हमारा देश भले ही विश्व शक्ति न बने, लेकिन विश्व गुरु जरूर हो सकता है।’

उन्होंने एकता का आह्वान करते हुए कहा कि भारत की अविभाजित भूमि सदियों से विदेशी आक्रमणकारियों के साथ कई लड़ाई हार गई क्योंकि स्थानीय आबादी एकजुट नहीं थी। उन्होंने समाज सुधारक डा.बी आर अंबेडकर का हवाला देते हुए कहा, ‘हम कभी किसी की ताकत से नहीं, बल्कि अपनी कमजोरियों से पराजित होते हैं।’

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत और 13 अन्य लोगों की याद में एक मिनट का मौन रखा। जनरल रावत और सैनिकों का हाल ही में तमिलनाडु के कुन्नूर के पास हेलीकॉप्टर दुर्घटना में निधन हो गया था। सूत्रों के मुताबिक मोहन भागवत हिमाचल प्रदेश के पांच दिवसीय दौरे पर हैं। वह तिब्बती आध्यात्मिक गुरु दलाई लामा से मुलाकात कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.