भारतीय युवक को चीनी सेना ने किया अगवा, सांसद ने लगाई केंद्र से मदद की गुहार

अरुणाचल प्रदेश से सांसद तापिर गाओ ने बुधवार को कहा कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने राज्य में भारतीय क्षेत्र के अपर सियांग जिले से 17 वर्षीय एक किशोर का अपहरण कर लिया है

0
254
भारतीय युवक को चीनी सेना ने किया अगवा, सांसद ने लगाई केंद्र से मदद की गुहार
भारतीय युवक को चीनी सेना ने किया अगवा, सांसद ने लगाई केंद्र से मदद की गुहार

भारतीय क्षेत्र से युवक को चीनी सेना ने अगवा किया

अरुणाचल प्रदेश में कथित तौर पर चीनी सेना पीएलए ने 17 साल के एक भारतीय युवक को बंदी बना लिया है। अरुणाचल प्रदेश के लोकसभा सांसद तपीर गाओ ने इसका दावा किया है।

अरुणाचल प्रदेश से सांसद तापिर गाओ ने बुधवार को कहा कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने राज्य में भारतीय क्षेत्र के अपर सियांग जिले से 17 वर्षीय एक किशोर का अपहरण कर लिया है। गाओ ने कहा कि अपहृत किशोर की पहचान मिराम तरोन के रूप में हुई है। उन्होंने कहा कि चीनी सेना ने सियुंगला क्षेत्र के लुंगता जोर इलाके से किशोर का अपहरण किया।

सांसद ने लोअर सुबनसिरी जिले के जिला मुख्यालय जिरो से फोन पर पीटीआई से कहा कि पीएलए से बचकर भागने में कामयाब रहे तरोन के मित्र जॉनी यइयिंग ने स्थानीय अधिकारियों को अपहरण के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दोनों किशोर जिडो गांव के रहने वाले हैं।

सांसद ने कहा कि यह घटना उस स्थान के पास हुई, जहां शियांग नदी अरुणाचल प्रदेश में भारत में प्रवेश करती है। इससे पहले गाओ ने ट्वीट कर मंगलवार को किशोर के अपहरण के बारे में जानकारी साझा की। उन्होंने ट्वीट के साथ अपहृत किशोर की तस्वीर साझा की और कहा – “भारत सरकार की सभी एजेंसियों से किशोर की जल्द रिहाई सुनिश्चित करने का अनुरोध है।”

ऐसा पहली बार नहीं है जब चीन की पीएलए ने इस तरह की शर्मनाक हरकत की हो। इससे पहले सितंबर 2020 में पीएलए ने अरुणाचल प्रदेश के ऊपरी सुबनसिरी जिले से पांच युवकों का अपहरण कर लिया था और लगभग एक सप्ताह के बाद उन्हें रिहा कर दिया था। ताजा घटना ऐसे समय में आई है जब भारतीय सेना अप्रैल 2020 से पूर्वी लद्दाख में पीएलए के साथ गतिरोध में लगी हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.