भारत ने हिजबुल मुजाहिदीन प्रमुख सलाउद्दीन, इंडियन मुजाहिदीन के भटकल बंधुओं सहित घोषित आतंकवादियों के रूप में 18 और लोगों को सूचित किया!

भारत ने घोषित आतंकवादियों की सूची में भटकल बंधुओं सहित 18 नाम जोड़े!

0
754
भारत ने घोषित आतंकवादियों की सूची में भटकल बंधुओं सहित 18 नाम जोड़े!
भारत ने घोषित आतंकवादियों की सूची में भटकल बंधुओं सहित 18 नाम जोड़े!

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मंगलवार को प्रतिबंधित हिजबुल मुजाहिदीन के प्रमुख सैयद सलाहुद्दीन, इंडियन मुजाहिदीन आतंकी संगठन के निर्माता भटकल भाइयों सहित, घोषित आतंकवादियों की सूची में 18 और लोगों को अधिसूचित किया है। 1999 में इंडियन एयरलाइंस के एक विमान के अपहरणकर्ताओं – अब्दुल रऊफ असगर, इब्राहिम अतहर, और यूसुफ अज़हर को भी सूची में शामिल किया गया है, यह सूची संशोधित गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के प्रावधानों के तहत तैयार की गयी है।

आतंकवादियों की सूची में शामिल नामों में पाकिस्तान स्थित शीर्ष लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) कमांडर साजिद मीर, जो मुंबई के 26/11 आतंकवादी हमले के मुख्य योजनाकारों में से एक था; 26/11 के मुंबई आतंकवादी हमले में एक और आरोपी तथा लश्कर कमांडर यूसुफ मुज़म्मिल; लश्कर प्रमुख हाफिज सईद का बहनोई अब्दुर रहमान मक्की, वही हाफिज सईद जो राजनीतिक मामलों का प्रमुख और संगठन के विदेशी संबंध विभाग में काम कर चुका है।

श-ए-मोहम्मद प्रमुख मसूर अजहर के तीन संबंधी – अब्दुल रऊफ असगर, इब्राहिम अतहर, और यूसुफ अजहर – सभी 1999 में एक इंडियन एयरलाइंस के विमान के अपहरण के संबंध में वांटेड हैं, सूची में शामिल किये गए हैं।

इस सूची में रियाज इस्माइल शाहबंदरी उर्फ रियाज भटकल और उसके भाई मोहम्मद इकबाल उर्फ इकबाल भटकल का नाम शामिल है, जिन्होंने इंडियन मुजाहिदीन का गठन किया था और जर्मन बेकरी (2010), बैंगलोर के चिन्नास्वामी स्टेडियम (2010), जामा मस्जिद (2010), शीतलाघाट (2010) और मुंबई (2011) पर हमलों सहित कई आतंकी घटनाओं में शामिल थे। उन पर आतंकियों के लिए धन मुहैया कराने और जयपुर सीरियल धमाकों (2008), दिल्ली सीरियल ब्लास्ट्स (2008), अहमदाबाद और सूरत (2008) में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों सहित कई आतंकवादी वारदातों का भी आरोप है।

इस खबर को अंग्रेजी में यहाँ पढ़े।

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के चार करीबी सहयोगी – जिन्हें संयुक्त राष्ट्र द्वारा वैश्विक आतंकवादी घोषित किया गया था – शेख शकील उर्फ छोटा शकील, मोहम्मद अनीस शेख, इब्राहिम मेमन उर्फ टाइगर मेमन और जावेद चिकना का भी नाम सूची में जोड़ा गया है। 1993 में मुंबई में हुए सीरियल ब्लास्ट में शामिल होने के अलावा, उन पर डी-कंपनी की सभी आपराधिक और अंडरवर्ल्ड गतिविधियों को संचालित करने का भी आरोप है।

पाकिस्तान स्थित गैर-कानूनी संगठन फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन (एफआईएफ), जो कि आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) का एक मुखौटा संगठन है, के उप-प्रमुख शाहिद महमूद उर्फ शाहिद महमूद रहमतुल्ला को भी आतंकवादी घोषित किया गया है। अक्षरधाम मंदिर पर हुए हमले (2002) और हैदराबाद में टास्क फोर्स कार्यालय पर हुए आत्मघाती हमले (2005) में शामिल पाकिस्तान स्थित एक आतंकवादी फरहतुल्लाह गोरी उर्फ अबू सुफियान का भी सूची में नाम है।

जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मसूर अजहर के तीन संबंधी – अब्दुल रऊफ असगर, इब्राहिम अतहर, और यूसुफ अजहर – सभी 1999 में एक इंडियन एयरलाइंस के विमान के अपहरण के संबंध में वांटेड हैं, सूची में शामिल किये गए हैं। वे इंटरपोल की रेड कॉर्नर (प्रत्यर्पण) सूची में भी हैं। ये तीनों, आतंकियों की भर्ती और उनके प्रशिक्षण के लिए पाकिस्तान में प्रशिक्षण शिविर चलाने में भी शामिल हैं। असगर संसद भवन पर हुए 2001 के आतंकवादी हमले में भी एक प्रमुख साजिशकर्ता है।

सलाहुद्दीन, जिसका मूल नाम सैयद मोहम्मद यूसुफ शाह है, के अलावा उसके डिप्टी गुलाम नबी खान उर्फ अमीर खान को भी आतंकवादी घोषित किया गया है। उन पर हिज्बुल मुजाहिदीन आतंकियों द्वारा आतंकवादी गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए भारत में धन उगाहने और वित्त पोषण के मार्ग तैयार करने में शामिल होने का आरोप है। पाकिस्तान स्थित आतंकवादी और सियालकोट सेक्टर का जैश कमांडर शाहिद लतीफ भी भारत में जैश आतंकवादियों के लॉन्च में शामिल होने के कारण आतंकी घोषित किया गया है। वह भारत में आतंकी हमलों की योजना बनाने, जरूरी चीजें मुहैया कराने और हमलों को अंजाम देने में भी शामिल है। ‘घोषित आतंकवादी‘ सूची में पाकिस्तान स्थित एक व्यक्ति ज़फर हुसैन भट का नाम भी है, जो हिजबुल मुजाहिदीन के वित्तीय मामलों को संभालता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.