चीन-दुबई से जुड़े रैकेट ने ऑनलाइन वर्क फ्रॉम होम के बहाने की ठगी; 11 हजार से ज्यादा लोग ठगी का शिकार!

    जांच में पता चला कि जिस टेलीग्राम आईडी का लिंक शिकायतकर्ता को भेजा गया था, वह बीजिंग, चीन से ऑपरेट हो रही थी।

    0
    201
    चीन-दुबई से जुड़े रैकेट ने ऑनलाइन वर्क फ्रॉम होम के बहाने की ठगी
    चीन-दुबई से जुड़े रैकेट ने ऑनलाइन वर्क फ्रॉम होम के बहाने की ठगी

    ऑनलाइन ठगी करने वाले गिरोह के तार चीन और दुबई से जुड़े

    देशभर में ग्यारह हजार से ज्यादा लोगों से ठगी कर चुके एक इंटरनेशनल रैकेट का पर्दाफाश हुआ है। ये पार्ट टाइम ऑनलाइन वर्क फ्रॉम होम के बहाने लोगों को अपना शिकार बनाते थे। मामले में तीन लोगों को अरेस्ट किया गया है। इनके तार चीन और दुबई से जुड़े होने के सबूत मिले हैं। आरोपियों के खातों में करीब 15 लाख की रकम भी पुलिस ने फ्रीज करवाई है।

    डीसीपी आउटर नार्थ डिस्ट्रिक्ट देवेश कुमार महला ने बताया नेशनल साइबर क्राइम रिपोर्टिंग पोर्टल पर रोहिणी निवासी महिला ने शिकायत दर्ज करवाई थी, जिसमें बताया गया उनसे अमेजन कंपनी के लिए ऑनलाइन वर्क फ्रॉम होम के एवज में एक लाख 18 हजार रुपए ठगे गए हैं। उन्हें इंस्टाग्राम पर दिए गए विज्ञापन के जरिए लुभाया गया था। इस बाबत केस दर्ज किया गया।

    जांच में पता चला कि जिस टेलीग्राम आईडी का लिंक शिकायतकर्ता को भेजा गया था, वह बीजिंग, चीन से ऑपरेट हो रही थी। पुलिस ने एनपीसीआई और कोटक महिंद्रा बैंक को मेल लिख संदिग्ध लेनदेन के लाभार्थी का विवरण मांगा था। बैंक से प्राप्त जानकारी के अनुसार यह पता चला कि पीड़ितों से पैसे जमा करने के लिए उस दिन कृष्णा एंटरप्राइजेज के नाम से एक शेल कंपनी के खाते का उपयोग किया गया था।

    जांच के दौरान यह भी पाया गया कि 22 सितंबर 2022 को एक ही दिन में कुल 5 करोड़ से ज्यादा रुपए जमा किए गए थे। कृष्णा एंटरप्राइजेज के आगे के मनी ट्रेल में यह पता चला कि पूरी राशि को सात अलग-अलग कंपनियों के माध्यम से आगे बढ़ाया गया था। पैसे की हेराफेरी क्रिप्टो करेंसी के जरिए विदेशी खातों में भेजी गई।

    बैंक से पुलिस को एक मोबाइल नंबर मिला जोकि उक्त कंपनी के खाते से जुड़ा हुआ था। उसका उपयोग नेट बैंकिंग आदि के लिए किया जा रहा था। संदिग्ध मोबाइल नंबर सतीश यादव निवासी नजफगढ़ का था। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

    [आईएएनएस इनपुट के साथ]

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.