कांग्रेस में राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के लिए अशोक गहलोत प्रबल दावेदार

कांग्रेस के अगले प्रमुख हो सकते है अशोक गहलोत

0
134
कांग्रेस में राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के लिए अशोक गहलोत प्रबल दावेदार
कांग्रेस में राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के लिए अशोक गहलोत प्रबल दावेदार

कांग्रेस में राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव 17 अक्टूबर को:गहलोत बन सकते हैं कांग्रेस प्रेसिडेंट

कांग्रेस में राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव की नोटिफिकेशन गुरुवार को जारी होगी। वोटिंग 17 अक्टूबर को होगा। अध्यक्ष बनने से गांधी परिवार का इनकार लगभग तय माना जा रहा है। ऐसे में पार्टी अध्यक्ष पद के लिए राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत का नाम सबसे ज्यादा चर्चा में है। इस रेस में जी-23 से जुड़े रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर भी शामिल है। माना जा रहा है कि अशोक गहलोत का मुकाबला थरूर से हो सकता है।

थरूर के मुकाबले गहलोत की जीत की संभावना ज्यादा है। ऐसे में सवाल उठता है कि अगर गहलोत पार्टी अध्यक्ष बने तो राजस्थान में सीएम कौन होगा। पार्टी को यह तय करना इसलिए भी जरूरी है कि गहलोत भले ही कुछ समय सीएम भी बने रहें, लेकिन ‘एक व्यक्ति, एक पद’ का फार्मूला लागू हुआ तो सीएम पद छोड़ना होगा।

सीएम पद के लिए सचिन पायलट के साथ अब विधानसभा अध्यक्ष सी.पी. जोशी का भी नाम भी सामने आ रहा है। ऐसे में हो सकता है कि कांग्रेस कोई चौंकाने वाला फैसला ले सकती है। बताया जा रहा है कि सीएम की रेस के लिए प्रदेश अध्यक्ष गोविंद डोटासरा, मंत्री बीडी कल्ला गुजरात प्रभारी में से किसी को मौका मिल सकता है। बता दें कि राजस्थान में अगले साल यानी 2023 में विधानसभा का चुनाव होना है।

मंगलवार देर रात सीएम हाउस में उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ के सम्मान में सभी विधायकों का डिनर रखा गया। डिनर के बाद कांग्रेस विधायक दल की बैठक हुई। विधानसभा सत्र की रणनीति तय करने के अलावा कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर भी इस बैठक में चर्चा की गई।

कांग्रेस विधायक दल की बैठक में आज देर रात सीएम अशोक गहलोत ने राष्ट्रीय अध्यक्ष पद पर नामांकन दाखिल करने के संकेत दिए हैं। गहलोत ने बैठक में कहा कि मैं आखिरी बार राहुल गांधी से मिलकर उन्हें मनाने का प्रयास करूंगा, अगर राहुल नहीं माने तो फिर हाईकमान का जो आदेश होगा, उसके लिए आपको तकलीफ दूंगा।

गहलोत के यह कहने पर बैठक में कई विधायकों ने कहा कि आपको यहीं पर रहना है। इस पर गहलोत ने कहा कि मैं कुछ भी बन जाऊं, लेकिन आपसे दूर नहीं रहूंगा, अंतिम सांस तक राजस्थान की सेवा करूंगा।

गहलोत बुधवार सुबह दिल्ली दौरे पर जा रहे हैं। दिल्ली में गहलोत वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात करेंगे। शाम को दिल्ली से केरल के कोच्चि जाएंगे। गहलोत राहुल गांधी से मुलाकात करेंगे और सिंबोलिक रूप से यात्रा में शामिल होंगे। गहलोत राहुल को अध्यक्ष पद पर नामांकन भरने के लिए मनाने का प्रयास कर सकते हैं। गहलोत ने बैठक में खुद इसके संकेत दिए हैं। राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने की मांग पर डेलिगेट्स की बैठक में गहलोत हाथ खड़े करवा कर प्रस्ताव पारित करवा चुके हैं।

विधायक दल की बैठक में विधानसभा सत्र की रणनीति पर भी चर्चा हुई। सोमवार से विधानसभा की बैठकें चालू होने के बाद पहली बार विधायक दल की बैठक बुलाई गई है। आमतौर पर विधानसभा की बैठक से एक दिन पहले ही विधायक दल की बैठक करके रणनीति बनाई जाती है। इस बार दाे दिन बाद यह बैठक की जा रही है।

[आईएएनएस इनपुट के साथ ]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.