मध्यप्रदेश में कमलनाथ के बाद कांग्रेस के पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने काटा तिरंगे वाला केक

    तिरंगे के आकार और रंग वाला केक काटा गया। केक के ऊपर केसरिया, बीच में सफेद और नीचे हरा रंग नजर आ रहा है।

    0
    50
    मध्यप्रदेश में कमलनाथ के बाद कांग्रेस के पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने काटा तिरंगे वाला केक
    मध्यप्रदेश में कमलनाथ के बाद कांग्रेस के पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने काटा तिरंगे वाला केक

    मध्यप्रदेश में केक को लेकर कांग्रेस ने नए बवाल को जन्म दे दिया है

    मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा हनुमान जी की आकृति वाला केक काटने को लेकर खड़ा हुआ विवाद अभी शांत भी नहीं हुआ है कि कांग्रेस नेता जीतू पटवारी के समर्थकों ने तिरंगे जैसा केक काटकर नए विवाद को जन्म दे दिया है। शनिवार शाम भारत जोड़ो यात्रा की तैयारियों को लेकर शहर पहुंचे जीतू पटवारी का जन्मदिन कांग्रेस नेताओं ने एक ढाबे में मनाया।

    इस दौरान तिरंगे के आकार और रंग वाला केक काटा गया। केक के ऊपर केसरिया, बीच में सफेद और नीचे हरा रंग नजर आ रहा है। इस दौरान कांग्रेस जिलाध्यक्ष अजय रघुवंशी सहित कांग्रेस के कई नेता मौजूद थे। जन्मदिन की यह तस्वीर अब सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रही है।

    इससे पहले कमलनाथ के केक काटने को लेकर विवाद हो गया था। केक विवाद को लेकर लगातार भाजपा कमलनाथ और कांग्रेस पार्टी पर निशाना साध रही थी, लेकिन भोपाल में जब कमलनाथ से केक काटने वाले मुद्दे पर सवाल किया तो उन्होंने कहा कि ”बीजेपी के पास मुद्दों की है कमी नहीं है, जनता सब जानती है। ये फालतू बात है जो है वो वीडियो में है, मैं इस पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं।” इससे ज्यादा कमलनाथ ने इस मुद्दे पर कुछ नहीं कहा। बता दें कि बीजेपी इस मुद्दे पर लगातार कमलनाथ पर निशाना साध रही है।

    पूर्व CM और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ के मंदिर की शेप वाले बर्थडे केक पर मध्यप्रदेश में सियासत गरमा गई है। CM शिवराज सिंह चौहान समेत BJP नेताओं के बाद अब गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने जुबानी हमला बोला था। उन्होंने कहा कि सनातनी होने का दावा करने वाले चुनावी हिंदू कमलनाथ जी ने भगवान हनुमान जी की फोटो लगे मंदिर की प्रतिकृति वाले बर्थडे केक को काटकर हिंदू धर्म की आस्था पर कुठाराघात किया है। कमलनाथ जी का यह कृत्य मंदिरों को ध्वस्त करने वाले मोहम्मद गौरी और महमूद गजनवी की याद दिलाता है। कांग्रेस की ओर से गुरुवार को भी बयान जारी किया गया था और कहा था कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा से ध्यान भटकाने के लिए यह मुद्दा जबरन उछाला जा रहा है।

    [आईएएनएस इनपुट के साथ]

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.