अर्नब लिंचिंग – भारत और बीजेपी के लिए शर्म की बात है

एक बंद मामले को कैसे फिर से खोला जा सकता है और उसके आधार पर अर्नब को जेल कैसे हो सकती है? क्या मामले कभी बंद नहीं होंगे?

0
579
एक बंद मामले को कैसे फिर से खोला जा सकता है और उसके आधार पर अर्नब को जेल कैसे हो सकती है? क्या मामले कभी बंद नहीं होंगे?
एक बंद मामले को कैसे फिर से खोला जा सकता है और उसके आधार पर अर्नब को जेल कैसे हो सकती है? क्या मामले कभी बंद नहीं होंगे?

अर्नब गोस्वामी के मुद्दे पर भाजपा चुप क्यों?

कई साल पहले भाजपा के एक प्रमुख व्यक्ति ने मुझसे कहा था – यदि आप गांधी परिवार के लिए खड़े हैं, तो एक बात जिसके लिए आप आश्वस्त हो सकते हैं, वह यह है कि वे आपकी रक्षा और सुरक्षा करेंगे, भले ही आप देश को लूट रहे हों, लेकिन भाजपा के लिए ऐसा नहीं कहा जा सकता है, क्योंकि यदि आप मुसीबत में हैं, तो आपको स्वयं ही अपने आप का बचाव करना होगा। सभी को एक ही तराजू में नहीं तौलना चाहिए, क्योंकि अभी हाल ही में देखा जा सकता है कि कंगना रनौत को कैसे सुरक्षा प्रदान की गई थी। लेकिन अकथनीय बात यह है कि अर्नब गोस्वामी की संभावित हत्या पर भाजपा चुप क्यों है? एक देश एक प्रतिशोधी राज्य सरकार को कैसे समझ सकता है – देश के सबसे लोकप्रिय एंकर (समाचार उद्घोषक), जिसे देश ही नहीं बल्कि दुनिया में करोड़ों लोगों द्वारा अनुसरण किया जाता है, पर संदिग्ध आरोपों के चलते उसे यातना देना? क्या भविष्य में कोई भी पत्रकार किसी भी राजनीतिक भ्रष्टाचार को उठा सकेगा? फिर आम आदमी का क्या हश्र होगा? क्या यही नया भारत है, जहां निवेशक पारदर्शी कानून के साथ निवेश कर सकते हैं?

अर्नब एक राष्ट्रीय आदर्श (आइकन), एक सच्चे राष्ट्रवादी हैं और उन्होंने उन मुद्दों को उठाया है, जिनको उठाने की भारत में किसी भी पत्रकार की हिम्मत नहीं है, लेकिन जब वह इस अत्याचार से जूझ रहे हैं तो कोई बचाव नजर नहीं आ रहा। यहां तक कि, अगर हिंसक राज्य सरकार उसे शारीरिक रूप से नहीं मारती है, तो वे उसे काफी हद तक भयभीत कर सकते हैं ताकि वह कभी भी वह कार्य करने में सक्षम न हो जैसा कि उसने पहले किया है, या वे उसके स्वास्थ्य को इस हद तक चोट पहुंचा सकते हैं कि वह कभी काम नहीं कर पाएं

अगर यह एनडीटीवी जैसे वामपंथी मीडिया घराने के साथ होता, तो दुनिया भर के समाचार मीडिया चिल्ला रहे होते और भारत सरकार हर स्तर पर इसे संबोधित करने के लिए कदम उठाती। उनमें से कई जैसे कि प्रणॉय रॉय, राजदीप सरदेसाई, शेखर गुप्ता, बरखा दत्त ने दशकों से नरेंद्र मोदी की छवि धूमिल, झूठ और उन्हें अपमानित किया है, लेकिन वे सब आज पैसे बना रहे हैं और जिस वक्त मोदी और भाजपा सरकार लड़खड़ाई ये सभी दोगुनी ताकत के साथ आएंगे। लेकिन अर्नब जो आज राष्ट्र और भाजपा के लिए खड़े हैं – नुकसान उठाएंगे और मदद के लिए चिल्लाते रहेंगे।

इस खबर को अंग्रेजी में यहाँ पढ़े।

क्या ठगों के साथ तार्किक या शांतिपूर्ण तरीके काम करते हैं?

कार्रवाई में किसी भी देरी से बहुत गहरा नुकसान हो सकता है। डॉ सुब्रमण्यम स्वामी अपने सुझावों की पेशकश कर रहे हैं कि अनुच्छेद 256, 257 का उपयोग करके केंद्र इस मामले को कैसे संभाल सकता है, और यदि यह काम न करे तो अनुच्छेद 356 का उपयोग किया जा सकता है।

डॉ सुब्रमण्यम स्वामी का ट्वीट:

1. मैं उद्धव ठाकरे और उनके परिवार की करोड़ों की संपत्ति का भी उल्लेख कर रहा हूं, सोशल मीडिया पर पोस्ट किया है। उन्होंने यह सब पैसा कैसे बनाया? शिवसेना के अंडरवर्ल्ड से क्या संबंध हैं? शरद पवार और परिवार ने कितने अरबों की लूट की और शायद कई आपराधिक गतिविधियों में शामिल हैं? सोनिया गांधी (एंटोनिया माइनो) का परिवार अभी कई सालों से जमानत पर बाहर है और हम उनके पारिवारिक अपराधों को सूचीबद्ध करना भी शुरू नहीं कर सकते। पी चिदंबरम गांधी परिवार और अपने परिवार के लिए राष्ट्रीय स्तर पर लूट करने के बाद आजादी से घूम रहे हैं, जबकि आज लाखों बच्चों को हर दिन भरपेट भोजन भी नहीं मिल पाता है। क्या केंद्र इतना असहाय है कि वह इस हत्या को रोक नहीं सकता और इन ठगों के खिलाफ मामला भी दर्ज नहीं कर सकता है?

मुझे उम्मीद है कि केंद्र बहुत देर होने से पहले कोई कार्रवाई करेगा, शायद देर हो चुकी है। यदि हम इस दिनदहाड़े होने वाली हत्या के सन्नाटे में चुप हैं, तो हम एक आत्मनिर्भर भारत नहीं बना सकते हैं और गर्व नहीं कर सकते हैं। अगर हम भारतीय राजनीतिक अभिजात वर्ग के इन घिनौने ठगों के खिलाफ तेजी से कार्रवाई नहीं करते हैं, तो परिणाम सभी के लिए खतरनाक होंगे।

ठाकरे परिवार की करोड़ों की संपत्ति की सूची! उन्हें वह सारा पैसा कहां से मिला?

Uddhav Balasaheb Thackeray Assets by PGurus on Scribd

ध्यान दें:
1. यहां व्यक्त विचार लेखक के हैं और पी गुरुस के विचारों का जरूरी प्रतिनिधित्व या प्रतिबिंबित नहीं करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.