स्पेनिश अखबार ने भारतीय अर्थव्यवस्था की ग्रोथ दिखाने के लिए लगाया सपेरे का कार्टून; भाजपा सांसद बोले- ये मूर्खतापूर्ण है!

भारत की बढ़ रही अर्थव्यवस्था को सपेरे के जरिए दिखाया गया है, जिसके बाद सोशल मीडिया में लोगों ने स्पेन के न्यूजपेपर के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

0
78
स्पेनिश अखबार ने कार्टून छापकर किया भारत का अपमान
स्पेनिश अखबार ने कार्टून छापकर किया भारत का अपमान

स्पेनिश अखबार ने कार्टून छापकर किया भारत का अपमान

स्पेनिश अखबार ला वैनगार्डिया ने इंडियन इकोनॉमी की ग्रोथ को लेकर एक कार्टून छापा है। इस कार्टून में बढ़ रही ग्रोथ को लेकर व्यंग किया गया है। इसमें भारत की बढ़ रही अर्थव्यवस्था को सपेरे के जरिए दिखाया गया है, जिसके बाद सोशल मीडिया में लोगों ने स्पेन के न्यूजपेपर के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

अखबार के आर्टिकल की फोटो शेयर करते हुए भाजपा सांसद पीसी मोहन ने नाराजगी जताई है। मोहन ने कहा कि इंडियन इकोनॉमी लगातार बढ़ रही है, लेकिन इसको एक सपेरे के जरिए दिखाना मूर्खतापूर्ण है।

स्पेनिश अखबार में यह आर्टिकल 9 अक्टूबर को छापा गया। इसकी हेडलाइन में लिखा था ‘The hour of the Indian economy‘ यानी भारतीय अर्थव्यवस्था का वक्त। आर्टिकल में एक कार्टून है, जिसमें दिखाया गया है कि एक सपेरा बीन बजा रहा है और भारत की अर्थव्यवस्था बढ़ रही है।

बेंगलुरु सेंट्रल से बीजेपी सांसद पीसी मोहन ने ट्वीट कर कहा कि दुनिया भर में इंडियन इकोनॉमी को पहचान मिल रही है। मगर आजादी मिलने के दशकों बाद भी भारत की तस्वीर एक सपेरे के जरिए दिखाना बेहद मूर्खतापूर्ण है। विदेशी सोच को बदलना काफी मुश्किल काम है।

जेरोधा के सीईओ नितिन कामथ ने भी गुस्सा जाहिर किया है। उन्होंने ट्वीट में लिखा कि ये बहुत अच्छी बात है कि इंडियन इकोनॉमी को दुनिया भर में नोटिस किया जा रहा है। यह बहुत अच्छी बात है कि पूरी दुनिया हमारी अर्थव्यवस्था को नोटिस कर रही है। मगर इस ग्राफ में जिस तरह भारत का रिप्रेजेंटेटिव एक सपेरे को दिखाया है, यह देश का अपमान है।

ब्रिटेन को पीछे छोड़कर भारतीय अर्थव्यवस्था दुनिया में पांचवें स्थान पर आ गई है। मौजूदा विकास दर पर भारत 2027 में जर्मनी और 2029 में जापान से आगे निकलकर दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। भारतीय स्टेट बैंक की रिसर्च रिपोर्ट के अनुसार इस साल पहली तिमाही में विकास दर 13.5% रही है। इस दर से भारत के इस वित्त वर्ष में सबसे तेज बढ़ती अर्थव्यवस्था रहने की संभावना है।

पूर्व मुख्य आर्थिक सलाहकार डॉ. अरविंद विरमानी का कहना है कि भारतीय अर्थव्यवस्था का सफर आगे भी जारी रहेगा और भारत आने वाले कुछ साल में दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। उन्होंने कहा-पिछले साल हम छठे स्थान पर थे।

[आईएएनएस इनपुट के साथ]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.