6 देशों से आने वालों के लिए आरटी-पीसीआर जरूरी; आईएटीए बोला- निराशाजनक फैसला, एयर ट्रैवल पर बुरा असर होगा!

    1 जनवरी से चीन, जापान, दक्षिण कोरिया, हॉन्गकॉन्ग, थाईलैंड और सिंगापुर से आने वाले यात्रियों को 72 घंटे पुरानी निगेटिव रिपोर्ट देनी होगी।

    0
    89
    कोरोना मामलों के कारण 6 देशों के यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर टेस्ट अनिवार्य
    कोरोना मामलों के कारण 6 देशों के यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर टेस्ट अनिवार्य

    कोरोना के बढ़ते मामलों से चिंतित सरकार ने 6 देशों के यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर टेस्ट अनिवार्य किया

    देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच सरकार एक्टिव नजर आ रही है। केंद्र ने गुरुवार को 6 देशों से आने वाले पैरेंजर्स के लिए आरटी-पीसीआर टेस्ट जरूरी कर दिया। 1 जनवरी से चीन, जापान, दक्षिण कोरिया, हॉन्गकॉन्ग, थाईलैंड और सिंगापुर से आने वाले यात्रियों को 72 घंटे पुरानी निगेटिव रिपोर्ट देनी होगी। ग्लोबल एयरलाइंस के ग्रुप आईएटीए (इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन) ने सरकार के इस फैसले को निराशाजनक बताया। आईएटीए ने गुरुवार को कहा कि भारत में इंटरनेशनल पैरेंजर्स के लिए कोरोना टेस्टिंग फिर शुरू की गई है। यह फैसला निशानाजनक है क्योंकि अभी की स्थिति तब से बहुत अलग है जब महामारी की शुरूआत हुई थी। लोग कोरोना टेस्टिंग कराने से बचते हैं, इसीलिए सरकार के फैसले का एयर ट्रैवल पर बुरा असर होगा।

    कोरोना की एडवांस तैयारियों को लेकर मनसुख मांडविया और फार्मा कंपनियों के बीच वर्चुअल मीटिंग की। इसमें कोरोना के इलाज के लिए जरूरी दवाओं के प्रोडक्शन और स्टॉक को लेकर बातचीत हुई है। एयर इंडिया एक्सप्रेस ने यूएई से आने वाले पैसेंजर्स के लिए मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग अनिवार्य कर दिया है। हेल्थ मिनिस्ट्री के मुताबिक, देश में कोरोना वैक्सीनेशन का आंकड़ा 220 करोड़ डोज को पार कर गया है। सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) ने केंद्र सरकार को कोवीशील्ड की दो करोड़ डोज फ्री देने की घोषणा की है।

    देश में गुरुवार को करोना के 268 नए केस मिले, जबकि दो संक्रमितों की मौत हो गई। वहीं, भारत में एक्टिव मरीजों की संख्या 3,552 रिकॉर्ड की गई। कोरोना की शुरुआत से लेकर अब तक देश में कुल केस 4.46 करोड़ है। जबकि 4.41 मरीज ठीक हुए। वहीं, 5 लाख से ज्यादा संक्रमितों की मौत हो गई है।

    चीन में कोरोना से हालात बदतर होते जा रहे हैं। इसे देखते हुए ताइवान ने भी 1 जनवरी से चीन से लौटने वाले यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर टेस्ट जरूरी कर दिया है। अमेरिका में भी 5 जनवरी से चीन से आने वाले सभी यात्रियों की निगरानी की जाएगी। लोगों को नेगेटिव कोरोना टेस्ट, राष्ट्रीयता और वैक्सीनेशन का प्रमाण देना होगा।

    [आईएएनएस इनपुट के साथ]

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.