अलकायदा से जुड़े 34 से अधिक लोग असम में गिरफ्तार, डीजीपी ने कहा- मदरसों का फायदा उठा रहे कुछ लोग

डीजीपी भास्कर ज्योति महंत ने कहा कि वर्तमान में बांग्लादेश और आतंकी संगठन अलकायदा के जुड़े ग्रुप युवाओं को कट्टरता फैलाने के लिए प्रभावित कर रहे हैं।

0
62
अलकायदा से जुड़े 34 से अधिक लोग असम में गिरफ्तार
अलकायदा से जुड़े 34 से अधिक लोग असम में गिरफ्तार

अलकायदा और मदरसों के सम्बंध की बात डीजीपी ने कुबूली

असम पुलिस के हाथ आतंकियों के खिलाफ बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने असम से आतंकी संगठन ‘अलकायदा‘ से जुड़े 34 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया है, जो आतंक फैलाने की साजिश में लिप्त थे। असम के डीजीपी भास्कर ज्योति महंत ने कहा कि राज्य में इस तरह की साजिशों को कभी कामयाब नहीं होने दिया जाएगा। आतंकी संगठन से जुड़े और लोगों के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। उन्होंने बताया कि आतंकवाद की साजिश असम के बाहर पड़ोसी देशों से रची जा रही है।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हम राज्य में कट्टरपंथ विरोधी उपायों को लागू कर रहे हैं। हमने इस बारे में कई मुस्लिम समूहों के साथ बातचीत की है, जिन्होंने हमारा सहयोग किया है। वहीं उन्होंने आगे कहा कि असम में कई नए मदरसे उभर रहे हैं, जिसका फायदा कुछ लोग उठा रहे हैं।

डीजीपी भास्कर ज्योति महंत ने कहा कि वर्तमान में बांग्लादेश और आतंकी संगठन अलकायदा के जुड़े ग्रुप युवाओं को कट्टरता फैलाने के लिए प्रभावित कर रहे हैं। हम इस तरह की साजिशों को सफल नहीं होने देंगे।

इससे पहले राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने बताया था कि असम के बारपेटा जिले में आतंकी संगठन एबीटी के सक्रिय मॉड्यूल के बारे में जानकारी मिली है, जिसका नेतृत्व बांग्लादेश के अतादी गांव का रहने वाला सैफुल इस्लाम कर रहा था। सैफुल इस्लाम युवाओं को स्लीपर सेल के रूप में काम करने के लिए प्रेरित कर रहा था और वह ढकलियापारा मस्जिद में एक अरबी शिक्षक के रूप में काम कर रहा था।

[आईएएनएस इनपुट के साथ]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.