कर्नाटक: हिंदू परिवार को इसाई बनाने के प्रयास के आरोप में पादरी गिरफ्तार

बोम्मनकट्टे निवासी व्यक्ति का तीन साल का बच्चा एक बीमारी से पीड़ित है और इस तथ्य का लाभ उठाते हुए पादरी ने परिवार के सदस्यों से कहा कि हिंदू धर्म से ईसाई धर्म में धर्म परिवर्तन ही उनकी समस्या का एकमात्र समाधान है।

0
282
कर्नाटक: हिंदू परिवार को इसाई बनाने के प्रयास के आरोप में पादरी गिरफ्तार
कर्नाटक: हिंदू परिवार को इसाई बनाने के प्रयास के आरोप में पादरी गिरफ्तार

कर्नाटक पुलिस ने धर्मांतरण का धंधा चलाने वाले पादरी को गिरफ्तार किया

कर्नाटक पुलिस ने राज्य के शिवमोग्गा जिले में एक परिवार को जबरन ईसाई बनाने का प्रयास करने वाले एक पादरी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी।

गिरफ्तार व्यक्ति की पहचान शिवमोग्गा के काशीपुरा लेआउट निवासी 34 वर्षीय मधु के रूप में हुई है। शिवमोग्गा जिले के विनोबानगर थाने में मामला दर्ज किया गया है। पुलिस के मुताबिक, आरोपी पादरी ने उनके तीन साल के बच्चे को बीमारी से ठीक करने के बहाने एक परिवार को ईसाई धर्म अपनाने के लिए मजबूर किया है।

बोम्मनकट्टे निवासी व्यक्ति का तीन साल का बच्चा एक बीमारी से पीड़ित है और परिवार ने कई डॉक्टरों से संपर्क किया, लेकिन उन्हें इसका कोई समाधान नहीं मिला। इस तथ्य का लाभ उठाते हुए पादरी ने परिवार के सदस्यों से कहा कि हिंदू धर्म से ईसाई धर्म में धर्म परिवर्तन ही उनकी समस्या का एकमात्र समाधान है।

आरोपी मधु ने कथित तौर पर परिवार से हिंदू देवताओं की सभी तस्वीरों को अपने घर से हटाने के लिए कहा और उन्हें ईसा मसीह के लिए प्रार्थना करने के लिए कहा। पुलिस के अनुसार, उसने उन्हें धार्मिक किताबें भी दी थीं और ईसाई धर्म का पालन करने के लिए कहा था।

स्थानीय लोगों ने इसकी शिकायत विनोबानगर थाने में की है। पुलिस ने उसे जबरन धर्म परिवर्तन के आरोप में हिरासत में ले लिया है और बोम्मनकट्टे इलाके में एक इमारत के अवैध निर्माण के तहत भी आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 417 (धोखाधड़ी), 295 (ए) (किसी भी व्यक्ति की भावनाओं को ठेस पहुंचाने या किसी व्यक्ति के धर्म का अपमान करने का इरादा) के तहत मामला दर्ज किया गया है। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है।

[आईएएनएस इनपुट के साथ]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.