हावड़ा में फिर भड़की हिंसा, उपद्रवियों ने पुलिस पर फेंके पत्थर, कोलकाता में भी माहौल तनावपूर्ण

उपद्रवियों द्वारा पुलिस पर पथराव करने का एक वीडियो भी सोशल मीडिया में वायरल हुआ है। जिसमें कई लोग पुलिस पर पत्थर फेंकते नजर आ रहे हैं।

0
183
हिंसा के कारण पश्चिम बंगाल में हालात बिगड़े
हिंसा के कारण पश्चिम बंगाल में हालात बिगड़े

हिंसा के कारण पश्चिम बंगाल में हालात बिगड़े!

पश्चिम बंगाल के हावड़ा में फिर से हिंसा भड़क गई है। उपद्रवियों ने पुलिस पर फिर से पथराव किया है। जिसमें पुलिस के कई जवानों के चोटिल होने की सूचना मिली है। उपद्रवियों द्वारा पुलिस पर पथराव करने का एक वीडियो भी सोशल मीडिया में वायरल हुआ है। जिसमें कई लोग पुलिस पर पत्थर फेंकते नजर आ रहे हैं। उपद्रवियों की भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले दागने पड़े।

मिली जानकारी के अनुसार आज सुबह हावड़ा के पंचला बाजार में उपद्रवियों ने फिर से पुलिस पर पथराव किया। एक समाचार एजेंसी ने पथराव का वीडियो सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर शेयर करते हुए मामले की जानकारी दी। उपद्रवियों के पथराव से पुलिस के कई जवान चोटिल हो गए। शुरुआत में तो जवानों ने लोगों को समझाने की कोशिश की। लेकिन जब पथराव की घटना नहीं थमी तो जवानों को आंसू गैस के गोले दागने पड़े।

दूसरी ओर हावड़ा की घटना को लेकर कोलकाता में भी अलर्ट है। बीजेपी से निष्कासित प्रवक्ता नुपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर की गई टिप्पणी को लेकर शुक्रवार को देश के कई इलाकों में जुमे की नमाज के बाद विरोध-प्रदर्शन शुरू हुआ था। लोगों के विरोध से बंगाल भी अछूता नहीं रहा। यहां कोलकाता, हावड़ा सहित कई अन्य जिलों में भी हजारों की संख्या में लोगों ने सड़कों पर उतरकर विरोध-प्रदर्शन किया था।

बताते चले कि हिंसा को लेकर हावड़ा के कई इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। इंटरनेट सेवा रोक दी गई। आदेश में कहा गया है कि 13 जून सुबह छह बजे तक इंटरनेट बंद रहेगा। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने राज्य में बिगड़ती कानून व्यवस्था की स्थिति पर मुख्य सचिव से तत्काल अपडेट मांगा है।

राज्यपाल ने लोगों से शांति की अपील की है। बताते चले कि शुक्रवार को प्रदर्शनकारियों ने पंचला बीजेपी पार्टी ऑफिस, उलुबेरिया जिला बीजेपी ऑफिस और हावड़ा ग्रामीण जिला मुख्यालय मानसताला में आग लगा दी थी।

[आईएएनएस इनपुट के साथ]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.