तेलंगाना: केसीआर की पार्टी के कार्यकर्ताओं से झड़प, सीएम जगन की बहन शर्मिला गिरफ्तार!

    बताया गया कि कुछ लोगों ने वाईएसआर तेलंगाना पार्टी (वाईएसआरटीपी) की नेता शर्मिला रेड्डी के काफिले में एक प्रचार बस को आग लगाने की कोशिश की।

    0
    252
    तेलंगाना
    तेलंगाना

    तेलंगाना में राजनीतिक गहमागहमी के बीच जगन मोहन रेड्डी की बहन गिरफ्तार

    आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी की बहन येदुगुरी संदीप्ति शर्मिला रेड्डी को तेलंगाना के वारंगल में उनके समर्थकों और तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव की पार्टी तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़प के बाद सोमवार को गिरफ्तार कर लिया गया। बताया गया कि कुछ लोगों ने वाईएसआर तेलंगाना पार्टी (वाईएसआरटीपी) की नेता शर्मिला रेड्डी के काफिले में एक प्रचार बस को आग लगाने की कोशिश की। बाद में बस को जलाने की कोशिश करने वाले लोग मौके से भाग गए।

    जब ये घटना हुई उस समय शर्मिला अपने समर्थकों के साथ पदयात्रा पर थीं। जब शर्मिला को उनके समर्थकों के साथ पुलिस ले जा रही था, तब उन्हें चिल्लाते हुए सुना गया कि ‘आप मुझे क्यों गिरफ्तार कर रहे हैं? मैं पीड़िता हूं, यहां आरोपी नहीं हूं।’ इस घटना के बाद शर्मिला ने कहा कि ‘टीआरएस सरकार की साजिश के तहत पदयात्रा के दौरान बस में आग लगा दी गई थी। मैं सभी अनुमतियों के साथ पदयात्रा कर रही हूं… वे कानून व्यवस्था की समस्या पैदा करने और मुझे गिरफ्तार करने और पदयात्रा रोकने की कोशिश कर रहे हैं। पुलिस को मोहरा बनाकर हमले किए जा रहे हैं।’

    शर्मिला ने वाईएसआर तेलंगाना पार्टी (वाईएसआरटीपी) लॉन्च की थी और पिछले साल अक्टूबर से ‘पदयात्रा’ पर हैं। वह अब तक 3,500 किमी की दूरी तय कर चुकी हैं। वह कल नरसम्पेट में थीं, जहां उन्होंने स्थानीय टीआरएस विधायक पेड्डी सुदर्शन रेड्डी की आलोचना की। इसके कारण मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (केसीआर) की पार्टी के कार्यकर्ता नाराज हो गए। उन लोगों ने उस वाहन पर हमला किया, जिसमें शर्मिला अपनी पदयात्रा के दौरान यात्रा कर रही थीं और उसमें आग लगा दी। इसके बाद उनके समर्थक नाराज हो गए और उनके और टीआरएस पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच लड़ाई शुरू हो गई।

    गौरतलब है कि शर्मिला की ‘पदयात्रा’ ने वाईएसआरटीपी और सत्तारूढ़ टीआरएस के बीच बहुत अधिक राजनीतिक तनाव पैदा कर दिया है। वहीं राज्य भाजपा अध्यक्ष बंडी संजय कुमार की एक और प्रस्तावित ‘पदयात्रा’ विवादों में घिर गई है। तेलंगाना पुलिस ने इसके लिए पब्लिक मीटिंग की अनुमति देने से इनकार कर दिया है। पुलिस ने कहा कि भैंसा में ‘पदयात्रा’ सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील है।

    [आईएएनएस इनपुट के साथ]

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.