भाजपा नेताओं ने देवघर से जबरन भरी उड़ान; मनोज तिवारी और कपिल मिश्रा समेत 9 नेताओं के खिलाफ एफआईआर

भाजपा सांसद निशिकांत दुबे, उनके दो बेटे, सांसद मनोज तिवारी और भाजपा नेता कपिल मिश्रा का नाम एफआईआर में शामिल।

0
165
भाजपा नेताओं की मनमानी, डीएसपी ने दर्ज कराई एफआईआर!
भाजपा नेताओं की मनमानी, डीएसपी ने दर्ज कराई एफआईआर!

भाजपा नेताओं की मनमानी, डीएसपी ने दर्ज कराई एफआईआर!

झारखंड के देवघर एयरपोर्ट के एयर ट्रैफिक कंट्रोलर (एटीसी) पर दबाव बनाकर रात में चार्टर्ड प्लेन टेक ऑफ कराने के मामले में भाजपा नेताओं समेत नौ के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई है। इनमें गोड्डा से भाजपा सांसद निशिकांत दुबे, उनके दो बेटे, सांसद मनोज तिवारी और भाजपा नेता कपिल मिश्रा का नाम शामिल हैं।

एफआईआर देवघर एयरपोर्ट पर तैनात डीएसपी सुमन अमन ने जिले के कुंडा थाना में दर्ज शिकायत पर कराई है। डीएसपी सुमन अमन के मुताबिक, 31 अगस्त को गोड्डा के सांसद, उनके दोनों बेटे, मनोज तिवारी और अन्य लोग देवघर एयरपोर्ट के एटीसी में जबरन घुसे और कर्मचारियों पर जबरन क्लियरेंस लेने का दबाव बनाया। उन्होंने अपनी शिकायत में यह भी कहा कि देवघर एयरपोर्ट में नाइट टेक ऑफ और लैंडिंग की सुविधा अभी तक नहीं है।

डीएसपी ने अपनी शिकायत में लिखा है कि जब वह एटीसी कंट्रोल रूम पहुंचे, तो वहां एयरपोर्ट के डायरेक्टर संदीप ढींगरा और चार्टर्ड प्लेन के पायलट पहले से मौजूद थे। उस समय चार्टर्ड प्लेन के पायलट ने एटीसी स्टाफ पर दबाव डाला। कुछ ही देर बाद सांसद और उनके दोनों बेटे भी वहां पहुंच गए।

डीएसपी ने लिखा कि दबाव से उन्हें क्लियरेंस मिल भी गया। पायलट और बाकी लोग थोड़ी देर में देवघर एयरपोर्ट से निकल गए।

डीएसपी अमन ने कंप्लेन में लिखा है कि इन चीजों को देखते हुए यह साफ है कि एयरपोर्ट ऑपरेशन के सुरक्षा मानकों का उल्लंघन किया गया। इन लोगों ने एटीसी में जबरन एंट्री की। डीएसपी ने सीसीटीवी का भी हवाला दिया है, जिसमें 31 अगस्त को घटना के समय मुकेश पाठक, देवता पांडे और पिंटू तिवारी पर भी एटीसी बिल्डिंग में सुरक्षा मानदंडों का उल्लंघन कर घुसने का आरोप है।

इस मामले में गोड्डा सांसद निशिकांत ने हेमंत सोरेन पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवार से हम मिलने गए तो आप इतने बौखला गए कि पेड सिस्टम हमें गाली देने लगा। झारखंड के इस्लामीकरण से त्रस्त परिवार के इंसाफ की लड़ाई केस-मुकदमे से बंद नहीं होगी।

31 अगस्त को सांसद निशिकांत दुबे, मनोज तिवारी, कपिल मिश्रा देवघर से दुमका गए थे। ये सभी दुमका में पेट्रोल अटैक में मारी गई नाबालिग के पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे थे। दरअसल, दुमका में 23 अगस्त को एक नाबालिग लड़की को पड़ोस में ही रहने वाले शाहरुख हुसैन ने घर में ही पेट्रोल डालकर जला दिया था। रांची के रिम्स में उसका इलाज चला और 28 अगस्त को उसकी मौत हो गई थी।

[आईएएनएस इनपुट के साथ]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.