राजधानी एक्सप्रेस का भी बुरा हाल! मंगाया ऑमलेट तो निकला कॉकरोच!

    मुंबई-दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस से सफर कर रहे योगेश मोरे के मुताबिक, उन्हें परोसे गए ऑमलेट में मरा हुआ कॉकरोच निकला।

    0
    113
    राजधानी एक्सप्रेस का भी बुरा हाल! मंगाया ऑमलेट तो निकला कॉकरोच!
    राजधानी एक्सप्रेस का भी बुरा हाल! मंगाया ऑमलेट तो निकला कॉकरोच!

    राजधानी एक्सप्रेस की पैंट्री की लापरवाही को लेकर सोशल मीडिया पर भारतीय रेल की एक बार फिर खूब फजीहत

    राजधानी एक्सप्रेस देश की सबसे अच्छी ट्रेनों में शुमार की जाती है, लेकिन इस ट्रेन में मौजूद पैंट्री की लापरवाही को लेकर सोशल मीडिया पर भारतीय रेल की एक बार फिर खूब फजीहत हो रही है। दरअसल मुंबई-दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस से सफर कर रहे योगेश मोरे के मुताबिक, उन्हें परोसे गए ऑमलेट में मरा हुआ कॉकरोच निकला। मोरे ने ट्वीट में रेल मंत्रालय और पीएमओ को टैग करते हुए कॉकरोच वाले ऑमलेट की तस्वीरें शेयर की हैं।

    योगेश मोरे ने बताया कि वह दिल्ली-मुंबई के बीच चलने वाली सीएसएमटी राजधानी एक्सप्रेस में अपने परिवार के साथ सफर कर रहे थे, जब उन्हें यह दूषित खाना परोसा गया। मोरे ने बताया कि ’16 दिसंबर को राजधानी एक्सप्रेस में यात्रा करते समय उन्होंने सुबह अपनी ढाई साल की बेटी के लिए एक एक्सट्रा ऑमलेट का ऑर्डर दिया था। हालांकि, जब ऑमलेट आया तो उसपर एक तिलचट्टा देखकर वह हैरान रह गए।’

    मोरे गुस्से में सवालिया लहजे में लिखते हैं कि अगर इस दूषित ऑमलेट को खाने के बाद उनकी ढाई साल की बेटी को कुछ हो जाता तो इसके लिए किसे जिम्मेदार ठहराया जाएगा। उन्होंने अपनी शिकायत में रेल मंत्रालय के साथ-साथ उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री पीयूष गोयल को भी टैग किया है।

    रेलवे यूजर्स के लिए ऑनलाइन सपोर्ट सर्विस रेल सेवा ने मोरे के ट्वीट का जवाब दिया है। रेल सेवा ने ट्वीट किया, ‘असुविधा के लिए खेद है। सर, कृपया अपना पीएनआर नंबर और मोबाइल नंबर डायरेक्ट मैसेज करें। आईआरसीटीसी अधिकारी।’ फिलहाल यह साफ नहीं है कि इस मामले में क्या कार्रवाई की गई है।

    बता दें कि आईआरसीटीसी को पिछले सात महीनों में ट्रेनों में खाने की गुणवत्ता से जुड़ी 5,000 से अधिक शिकायतें मिली हैं। रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव ने बुधवार को संसद में जानकारी दी है। वैष्णव ने लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा कि 1 अप्रैल 2022 से लेकर 31 अक्टूबर, 2022 के बीच आईआरसीटीसी को ट्रेनों में खाने की गुणवत्ता के संबंध में 5,869 शिकायतें मिलीं। उन्होंने कहा, ‘खाने की गुणवत्ता के संबंध में कोई भी शिकायत मिलने पर आईआरसीटीसी के सेवा प्रदाता के खिलाफ जुर्माना लगाने समेत उचित कार्रवाई की जाती है।’

    [आईएएनएस इनपुट के साथ]

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.