अमित शाह ने मांड्या और पुराने मैसूर के लोगों से बीजेपी के लिए मांगा समर्थन, कांग्रेस और जेडीएस को बताया ‘परिवारवादी’ और ‘भ्रष्ट’

    शाह ने कहा इस बार मांड्या, मैसूर क्षेत्र को भाजपा को पूर्ण बहुमत से जीत दिलानी चाहिए।

    0
    263
    अमित शाह
    अमित शाह

    अमित शाह ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा- कांग्रेस और जेडीएस पार्टियों ने बार-बार भ्रष्टाचार के जरिए कर्नाटक की प्रगति को रोका है

    केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शुक्रवार को कांग्रेस और जेडीएस पर निशाना साधते हुए उन्हें ‘परिवारवादी’ और ‘भ्रष्ट’ कहा। इसके साथ ही, उन्होंने मांड्या और पुराने मैसूर क्षेत्र के लोगों से राज्य में बहुमत से सरकार बनाने में भाजपा का समर्थन करने का आग्रह किया। बता दें, भाजपा को वोक्कालिगा बहुल ओल्ड मैसूर क्षेत्र में कमजोर माना जाता है। इसलिए पार्टी 2023 के विधानसभा चुनाव में पूर्ण बहुमत हासिल करने के लिए इस बेल्ट पर ध्यान केंद्रित कर रही है।

    अमित शाह ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, जेडीएस-कांग्रेस, कांग्रेस-जेडीएस बहुत हो गया। इस बार मांड्या, मैसूर क्षेत्र को भाजपा को पूर्ण बहुमत से जीत दिलानी चाहिए। कांग्रेस और जेडीएस दोनों परिवारवादी पार्टियां हैं। वे भ्रष्ट पार्टियां हैं।”

    भाजपा की चल रही ‘जनसंकल्प यात्रा’ के तहत एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “हमने दोनों दलों का प्रशासन देखा है। जब कांग्रेस आएगी, कर्नाटक दिल्ली का एटीएम बनेगा और जब जेडीएस आएगा, तो यह एक परिवार के लिए एटीएम बन जाएगा। इन दोनों पार्टियों ने बार-बार भ्रष्टाचार के जरिए कर्नाटक की प्रगति को रोका है।”

    यह कहते हुए कि वंशवादी राजनीति और भ्रष्टाचार से मुक्त होने का समय आ गया है, शाह ने लोगों से भाजपा को एक बार पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाने और राज्य में ‘डबल इंजन’ सरकार लाने का अवसर देने को कहा। अमित शाह ने कहा, “मोदीजी के नेतृत्व में अगले पांच वर्षों में, हम कर्नाटक को प्रगति के पथ पर आगे ले जाएंगे।” उन्होंने कांग्रेस और जेडीएस दोनों पर ‘भ्रष्ट, सांप्रदायिक और अपराधियों के संरक्षक’ होने का आरोप लगाया।

    224 सदस्यीय कर्नाटक विधानसभा में भाजपा को कभी भी पूर्ण बहुमत नहीं मिला है। उसने या तो जेडीएस के समर्थन से या अन्य दलों से दलबदल करके ‘निर्मित जनादेश’ के माध्यम से सरकारें बनाई हैं। जनसभा में कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई, केंद्रीय मंत्री प्रल्हाद जोशी, राज्य भाजपा प्रमुख नलिन कुमार कतील, पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सी टी रवि सहित अन्य नेता उपस्थित थे।

    इस बात पर प्रकाश डालते हुए कि 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले कर्नाटक में चुनाव होने जा रहे हैं, शाह ने मांड्या और मैसूर क्षेत्र के लोगों से आग्रह किया कि वे भाजपा को अपने क्षेत्र की सभी सीटों पर जीत दिलाएं और स्पष्ट बहुमत के साथ सरकार बनाने में मदद करें। उन्होंने कहा कि भाजपा का समर्थन करने से पीएम मोदी का हाथ मजबूत होगा और यह देश को सुरक्षित बनाएगा।”

    आगे यह आरोप लगाते हुए कि कांग्रेस और जेडीएस दोनों ने मांड्या और पुराने मैसूर क्षेत्र की प्रगति के लिए कुछ नहीं किया है, शाह ने कहा कि भाजपा ने मैसूर-बेंगलुरु एक्सप्रेसवे, मौजूदा रेलवे लाइन के दोहरीकरण और इसके विद्युतीकरण का काम करवाया।

    पुराने मैसूर क्षेत्र में मांड्या एक वोक्कालिगा समुदाय बहुल जिला है, जिसे बड़े पैमाने पर जेडीएस के गढ़ के रूप में देखा जाता है, जहां कांग्रेस भी मजबूत है और भाजपा अपनी पैठ बनाने की कोशिश कर रही है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव सी टी रवि ने बुधवार को कहा था कि पार्टी विधानसभा चुनावों से पहले पुराने मैसूर क्षेत्र पर विशेष ध्यान देगी, क्योंकि उसने महसूस किया है कि इस क्षेत्र में लोगों का विश्वास जीते बिना, उसे बहुमत नहीं मिल सकता है।

    2018 के चुनाव में, भाजपा हासन में एक सीट जीतने में सफल रही; बाद में हाई-वोल्टेज 2019 के उपचुनावों में, यह केआर पेट सीट जीतने में कामयाब रही, जो मांड्या जिले में इसकी पहली जीत थी। इसने पहली बार चिक्कबल्लापुर भी जीता।

    एक तरह का इतिहास रचते हुए, पार्टी ने 2020 के उपचुनावों में पहली बार तुमकुरु जिले में सिरा विधानसभा क्षेत्र जीता। यह याद दिलाते हुए कि उन्होंने मांड्या से 2018 के विधानसभा चुनावों के लिए प्रचार शुरू किया था, शाह ने कहा कि कर्नाटक के लोगों ने भाजपा को सरकार बनाने का मौका दिया, जिससे वह राज्य में सबसे बड़ी पार्टी बन गई। बाद में, 2019 के लोकसभा चुनावों में मोदी के नेतृत्व में 52 प्रतिशत वोट शेयर के साथ कर्नाटक की 28 में से 25 सीटें भाजपा को मिली।

    [आईएएनएस इनपुट के साथ]

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.