डी गैंग पर 90 लाख इनाम; एनआईए ने पहली बार ताजा फोटो जारी की

डी गैंग, दाऊद के अलावा लश्कर चीफ हाफिज सइद, जैश चीफ मौलाना मसूद अजहर, हिज्बुल मुजाहिदीन फाउंडर सैयद सलाहुद्दीन और अब्दुल रऊफ असगर भी भारत की मोस्ट वांटेड लिस्ट में शामिल हैं।

0
182
डी गैंग पर 90 लाख इनाम; एनआईए ने पहली बार ताजा फोटो जारी की
डी गैंग पर 90 लाख इनाम; एनआईए ने पहली बार ताजा फोटो जारी की

डी गैंग के बारे में जानकारी देने वाले को एनआईए देगी 90 लाख रुपये

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने दाऊद इब्राहिम और डी कंपनी से जुड़े लोगों के बारे में जानकारी देने वालों को इनाम का ऐलान किया है। इन ने गुरुवार को इनामी राशि की लिस्ट जारी की है। इसमें दाऊद पर 25 लाख का इनाम रखा गया है। इसके अलावा छोटा शकील की जानकारी देने पर 20 लाख इनाम की घोषणा की गई है।

लिस्ट में दाऊद, छोटा शकील, अनीस इब्राहिम, जावेद चिकना और टाइगर मेमन का नाम है। ऐसा पहली बार है कि एनआईए ने सार्वजनिक तौर पर इतने बड़े इनाम का ऐलान किया है। खास बात ये भी है कि पहली बार इन लोगों की पुरानी और नई तस्वीरें एक साथ जारी की गई हैं। हालांकि, दाऊद की नई फोटो नहीं है। उसकी वही फोटो जारी की गई है, जो 1993 मुंबई धमाकों के बाद कई सरकारी एजेंसियों ने जारी की थीं।

एनआईए को मुंबई में ड्रग्स और अवैध प्रॉपर्टी के जरिए टेरर फंडिंग के सबूत मिले हैं। इसके पीछे अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का सिंडिकेट काम कर रहा है। आईएसआई की मदद से आतंक का नया मॉड्यूल तैयार किया जा रहा है।

एनआईए की खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक, दाऊद गैंग के लोग पाकिस्तान के सपोर्ट वाले आतंकी संगठनों तक फंड पहुंचा रहे हैं। इस वजह से मुंबई, ठाणे और आसपास के इलाकों में फिरौती, सट्टेबाजी, बिल्डरों को धमकी और ड्रग्स का कारोबार बढ़ा है।

शॉर्ट फिल्में बनाने वाले प्रोड्यूसर उल्हास पी. रेवंकर ने साल 2016 में गृह मंत्रालय में एक आरटीआई दायर कर दाऊद और उसके गैंग के सदस्यों पर जारी इनाम की राशि बताने की मांग की थी। तब गृह मंत्रालय ने जो जवाब दिया था- ‘ऐसी कोई सूचना उपलब्ध नहीं है।’ इस जवाब से रेवंकर संतुष्ट नहीं हुए और उन्होंने चीफ पब्लिक इन्फॉर्मेशन ऑफिसर को अपील कर दी। हालांकि, उनका भी कोई जवाब नहीं मिला था।

आरटीआई 6 सितंबर 2015 को दायर की गई थी। जवाब मिला 15 सितंबर को। इस पर गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव एमए गणपति ने कहा था कि उन्होंने 30 नवंबर 2015 को ऑनलाइन दायर की गई रेवंकर की अपील देखी है और उनका मूल आरटीआई आवेदन भी देखा है। लेकिन जवाब में कहा गया कि ऑफिसर ने कहा था कि जिस ऑफिस के वह सीपीआईओ हैं, उसमें यह सूचना उपलब्ध नहीं है।

यूनाइटेड नेशंस सिक्योरिटी काउंसिल ने 2003 में दाऊद इब्राहिम पर 25 मिलियन डॉलर का इनाम रखा था। डी गैंग, दाऊद के अलावा लश्कर चीफ हाफिज सइद, जैश चीफ मौलाना मसूद अजहर, हिज्बुल मुजाहिदीन फाउंडर सैयद सलाहुद्दीन और अब्दुल रऊफ असगर भी भारत की मोस्ट वांटेड लिस्ट में शामिल हैं।

[आईएएनएस इनपुट के साथ]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.