लम्बी-लम्बी कतारों, भीड़-भाड़ की शिकायतें मिलने के बाद दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचे ज्योतिरादित्य सिंधिया!

    रविवार को बहुत-से यात्रियों को काफी लम्बा इंतज़ार करना पड़ा था, और उनमें से कई ने सोशल मीडिया पर इस दिक्कत के बारे में पोस्ट किया।

    0
    215
    दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचे केंद्रीय उड्डयन मंत्री
    दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचे केंद्रीय उड्डयन मंत्री

    यात्रियों की शिकायतें बढ़ने के बाद दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचे केंद्रीय उड्डयन मंत्री

    दिल्ली एयरपोर्ट पर लम्बी-लम्बी लाइनें लगने और चेक-इन में बहुत देरी होने की शिकायतों की सोशल मीडिया पर बाढ़-सी आ जाने के बाद केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों को लेकर सोमवार को एयरपोर्ट ही पहुंच गए। मिली तस्वीरों में ज्योतिरादित्य सिंधिया को एयरपोर्ट के प्रशासनिक अधिकारियों तथा सुरक्षाधिकारियों से बातचीत करते देखा जा सकता है।

    रविवार को बहुत-से यात्रियों को काफी लम्बा इंतज़ार करना पड़ा था, और उनमें से कई ने सोशल मीडिया पर इस दिक्कत के बारे में पोस्ट किया, तथा इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट (आईजीआईए) के टर्मिनल 3 (टी3) पर मौजूद भीड़ की तस्वीरें भी शेयर कीं।

    एक यात्री के ट्वीट के जवाब में दिल्ली एयरपोर्ट ने कहा था कि उसने यात्रियों की मदद करने तथा असुविधा को कम करने के लिए अधिकारियों की तैनाती कर दी है। लम्बी-लम्बी कतारों की शिकायत करते हुए यात्री ने कहा था कि अब नए टर्मिनल बनाए जाने की ज़रूरत है।

    दिल्ली एयरपोर्ट ने एक ट्वीट में कहा था, “निश्चिंत रहें, यात्री सुविधा हमारे लिए सर्वोपरि है, और हम हमेशा उसे बेहतर करने के लिए प्रयासरत रहते हैं… हमने आपकी टिप्पणियों पर संज्ञान लिया है, तथा संबद्ध एजेंसी तक पहुंचा दिया है… इसके बाद भी आप अपना फीडबैक सीधे सीआईएसएफ मुख्यालय तक भेज सकते हैं…”

    दिल्ली एयरपोर्ट तथा नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने चार-सूत्री योजना बनाई है, ताकि एयरपोर्ट पर भीड़ को घटाया जा सके, और चेक-इन के दौरान ज़्यादा भीड़ होने और लम्बी कतारें लगने की शिकायतें दूर की जा सकें। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इस सप्ताह की शुरुआत में भी अधिकारियों से मुलाकात की थी।

    एक्स-रे स्क्रीनिंग सिस्टम बढ़ाए जाएंगे, रिज़र्व लाउन्ज को खत्म किया जाएगा, और ऑटोमैटिक ट्रे रिट्रीवल सिस्टम (एटीआरएस) मशीन व दो एक्स-रे मशीनें इन्स्टॉल की जाएंगी। दो एन्ट्री प्वाइंट – गेट 1ए तथा गेट 8बी को यात्री प्रयोग के लिए खोला जाएगा।

    देश के सबसे बड़े एयरपोर्ट आईजीआईए पर तीन टर्मिलन हैं – टी1, टी2 और टी3। सभी अंतरराष्ट्रीय तथा कुछ घरेलू उड़ानें टी3 से ही ऑपरेट होती हैं। एयरपोर्ट पर रोज़ाना औसतन 1.90 लाख यात्री तथा 1,200 उड़ानें आती-जाती हैं।

    [आईएएनएस इनपुट के साथ]

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.