74वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर वीरता पुरस्कारों की घोषणा; मेजर शुभांग, नायक जितेंद्र सिंह राजपूत को कीर्ति चक्र, 7 शौर्य च्रक का भी ऐलान!

    पुरस्कारों में 6 कीर्ति चक्र हैं, जो 4 सैनिकों को मरणोपरांत दिए जाएंगे। 15 शौर्य चक्र हैं, जिनमें दो सैनिकों को मरणोपरांत यह सम्मान मिलेगा।

    0
    609
    गणतंत्र दिवस के अवसर पर वीरता पुरस्कारों की घोषणा!
    गणतंत्र दिवस के अवसर पर वीरता पुरस्कारों की घोषणा!

    गणतंत्र दिवस से एक दिन पहले वीरता पुरस्कारों की घोषणा राष्ट्रपति द्वारा सशस्त्र बलों के 412 कर्मियों को वीरता पुरस्कार दिए जाएंगे

    74वें गणतंत्र दिवस से एक दिन पहले वीरता पुरस्कारों की घोषणा कर दी गई है। इस साल 6 कीर्ति चक्र और 15 शौर्य च्रक दिए जाएंगे। मेजर शुभांग और नायक जीतेंद्र सिंह को कीर्ति चक्र से सम्मानित किया जाएगा। वहीं मेजर आदित्य भदौरिया, कैप्टन अरुण कुमार, कैप्टन युद्धवीर सिंह, कैप्टन राकेश टीआर, नायक जसबीर सिंह (मरणोपरांत), लांस नायक विकास चौधरी और कांस्टेबल मुदासिर अहमद शेख (मरणोपरांत) को शौर्य चक्र मिलेगा।

    रक्षा मंत्रालय ने बताया कि 74वें गणतंत्र दिवस के मौके पर राष्ट्रपति द्वारा इस बार सशस्त्र बलों के 412 कर्मियों को वीरता पुरस्कारों और अन्य सम्मान दिए जाएंगे। इनमें 6 कीर्ति चक्र हैं, जो 4 सैनिकों को मरणोपरांत दिए जाएंगे। 15 शौर्य चक्र हैं, जिनमें दो सैनिकों को मरणोपरांत यह सम्मान मिलेगा।

    19 परम विशिष्ट सेवा मेडल, 3 उत्तम युद्ध सेवा मेडल, एक बार टू अति विशिष्ट सेवा मेडल, 32 अति विशिष्ट सेवा मेडल, 8 युद्ध सेवा मेडल, एक बार टू सेना मेडल (वीरता) और 92 सेना पदक (वीरता) के लिए दिए जाएंगे।

    मेजर शुभांग ने अप्रैल 2022 को जम्मू-कश्मीर के बडगाम में आतंकियों के खिलाफ बेहद मुश्किल हालातों में अपनी टीम का नेतृत्व किया। आतंकवादियों ने अंधाधुंध भारी छोटे हथियार चलाए और बैरल ग्रेनेड लांचर से गोलीबारी की जिसमें एक अधिकारी और उनकी टीम के दो कर्मी घायल हो गए। बाएं कंधे पर गोली लगने के बावजूद अडिग मेजर शुभांग ने अतुलनीय वीरता का प्रदर्शन किया और अत्यंत करीबी एक आतंकवादी को मार गिराया।

    इससे पहले 74वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर कुल 901 पुलिस कर्मियों को पुलिस पदक से सम्मानित किया गया है। इनमें 140 कर्मियों को वीरता के लिए पुलिस पदक, 93 को राष्ट्रपति के पुलिस पदक और 668 को मेधावी सेवा के लिए पुलिस पदक से सम्मानित किया गया है। 140 वीरता पुरस्कारों में से नक्सल प्रभावित क्षेत्रों के 80 पुलिसकर्मियों और जम्मू-कश्मीर क्षेत्र के 45 पुलिसकर्मियों को उनकी वीरता के लिए पदक प्रदान किए गए।

    वीरता पुरस्कार प्राप्त करने वालों में 48 केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) से, 31 महाराष्ट्र पुलिस से, 25 जम्मू-कश्मीर पुलिस से, नौ झारखंड से और दिल्ली पुलिस, छत्तीसगढ़ पुलिस तथा सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) से सात-सात कर्मी हैं। इनमें शेष अन्य राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों एवं सीएपीएफ के जवान हैं।

    [आईएएनएस इनपुट के साथ]

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.